sulabh swatchh bharat

मंगलवार, 22 अगस्त 2017

ग्रामीण युवाओं का कौशल विकास

मणिपुर राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन ने 10518 उम्मीदवारों को प्रशिक्षित करने की योजना बनाई 

मौजूदा वित्तीय वर्ष में मणिपुर राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन ने 10518 उम्मीदवारों को प्रशिक्षित करने की योजना बनाई है। इस योजना के तहत दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना (डीडीयू-जीकेवाई) के कार्यान्वयन के लिए अपोलो मेडस्कील्स लिमिटेड के साथ एक समझौते ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया गया है। इस एमओयू पर राज्य मिशन के निदेशक आर सुधान और अपोलो मेडस्कील्स के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एस श्रीधर और पंचायतीराज मंत्री थोंगम बिश्वजीत सिंह ने हस्ताक्षर किए। डीडीयू-जीकेवाई राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन की कौशल क्रिया है, जो ग्रामीण युवाओं को आगे बढ़ाने के लिए काम कर रहा है।

यह योजना उन्हें मुफलिसी से उत्पादकता की तरफ ले जा रहा है। यह इंटर्नशिप और प्लेसमेंट के अवसरों की पहचान करने और स्नातक स्तर की पढ़ाई से 3 वर्षों की अवधि में करियर की प्रगति को ट्रैक करने के लिए स्किलिंग परियोजनाओं (प्रशिक्षुओं या नियोक्ताओं के लिए बिना किसी कीमत पर) में निवेश करने की प्रक्रिया के पूरे जीवन चक्र का मालिक है और इसका प्रबंधन भी करता है। डीडीयू-जीकेवाई 3-स्तरीय कार्यान्वयन मॉडल का अनुसरण करता है। इसकी प्राथमिक श्रेणी राष्ट्रीय इकाई है, जो नीति बनाने, तकनीक सहायता, सुविधा और निवेश एजेंसी के रूप में कार्य करती है।   (भाषा)



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो