sulabh swatchh bharat

मंगलवार, 22 अगस्त 2017

डेंगू, चिकनगुनिया व मलेरिया पर मेयर ने की बैठक  

उत्तरी दिल्ली की मेयर प्रीति अग्रवाल ने डेंगू, चिकुनगुनिया व मलेरिया की स्थितिए रोकथाम हेतु सावधानियां व उपायों पर चर्चा हेतु स्वास्थ्य अधिकारियों की एक बैठक ली।

नई दिल्लीः बैठक में निगम स्वास्थ्य अधिकारी व उत्तरी दिल्ली नगर निगम के सभी छह क्षेत्रों के उप-स्वास्थ्य अधिकारियों ने भाग लिया। अग्रवाल ने बताया कि यद्यपि इस वर्ष डेंगू के मामले पिछले वर्ष के अनुपात में कम हैं फिर भी निगम प्रशासन सतर्क रहते हुए इन्हें गंभीरता से लेते हुए इसकी रोकथाम के लिए प्रयासरत है। उन्होंने अधिकारियों को नागरिकों को इश्तहार के माध्यम से जागरूक करने के आदेश दिए जिससे वे सावधानियां बरत सकें। उन्होंने कहा कि नागरिकों को रोकथाम हेतु सावधानियों के लिए पूर्णतया जागरूक होना चाहिए।

मेयर ने अधिकारियों को आदेश दिए कि वे नागरिकों को अपने घरों व अन्य स्थानों पर साफ पानी जमा न होने दें। यदि पानी जमा करना अवाश्यक भी है तो उसे पूरी तरह ढक कर रखें ताकि मच्छरों की उत्पत्ति न हो सके। अब तक उत्तरी दिल्ली नगर निगम के अधिकार क्षेत्र में डेंगू के तीन मामले सामने आए हैं जबकि कुल 180 मामलों में से 98 मामले दिल्ली के हैं। इसी तरह उत्तरी दिल्ली नगर निगम के अधिकार क्षेत्र से चिकिनगुनिया के तीन मामले सामने आए हैं। अब तक कुल 195 मामले दर्ज किये गए हैं जिसमें 127 मामले दिल्ली से हैं। उन्होंने कहा कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम द्वारा मच्छरों की उत्पत्ति रोकने हेतु हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। यह आंकड़े एक जनवरी 2017 से 22 जुलाई 2017 के है।

निगम स्वास्थ्य अधिकारी डा एके बंसल ने बताया कि इस वर्ष 22 जुलाई 2017 तक 8869919 घरों में मच्छर प्रजनन की जांच हेतु निगमकर्मचारी गअ जिसमें 21608 में मच्छरों की उत्पत्ति पाई गई। 18951 लोगों को मच्छरों की उत्पत्ति के कारण कानूनी नोटिस जारी किये गये जबकि 4175 लोगों के विरुद्ध वैद्यानिक अभियोजन प्रारंभ किया गया। उन्होंने यह भी बताया कि 38 स्थानों पर मच्छरों का लार्वा खाने वाली मछलियां भी छोड़ी गईं।
 



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो