sulabh swatchh bharat

शुक्रवार, 20 अक्टूबर 2017

डीएम ने डेंगू एवं मलेरिया रोधी महीने का किया आयोजन

पूर्वी दिल्ली नगर निगम एवं दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन ने संयुक्त रूप से गीता कॉलोनी के समुदाय भवन में मलेरिया एवं डेंगू रोधी माह पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया।

नई दिल्लीः इस समारोह में पूर्वी दिल्ली की मेयर नीमा भगत मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित थी। इस अवसर पर उपमेयर एवं कार्यक्रम के अध्यक्ष विपिन बिहारीय्, नेता सदन संतोश पाल, नेता प्रतिपक्ष अब्दुल रहमान के अतिरिक्त दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ विजय कुमार मल्होत्रा, आईएमए के प्रोजेक्ट चेयरमैन डा वीके मोंगा के अलावा कई पार्षद निगम, स्वास्थ्य अधिकारी डा एनआर दास सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे।

मेयर नीमा भगत ने कहा कि बरसात के मौसम आरंभ होने से पूर्व ही जन स्वास्थ्य विभाग द्वारा लोगों को इन बीमारियों तथा उनके बचाव के बारे में जागरूक किया जा रहा है साथ ही डीबीसी द्वारा घर-घर जाकर मच्छरों की ब्रिडिंग रोकने संबंधी कार्य निसंदेह सराहनीय है। उन्होने कहा कि दिल्ली को डेंगू रहित बनाने के अपने उदेष्य की प्रतिपूर्ति के लिए निगम में पक्ष और विपक्ष समर्पित है। मेयर ने कहा कि डेंगू पर नियंत्रण पाने के लिए जनता का सहयोग अपेक्षित है।  

दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ विजय कुमार मल्होत्रा ने कहा कि दिल्ली मेडिकल एसोसिएशन डेंगू नियत्रंण के महत्वपूर्ण उद्देश्य में निगम को हरसंभव सहयोग करने के लिए तैयार है। उन्होने कहा कि चूंकि डेंगू बीमारी का कोई निष्चित उपचार नहीं है इसलिए आवश्यक है कि इस बीमारी के कारक यानि मच्छरों की उत्पत्ति पर रोक लगाई जाएए क्योकि उपचार ही बचाव है। वहीं आईएमए के प्रोजेक्ट चेयरमैन डा वीके मोंगा ने कहा कि डेंगू एक बड़ी चुनौती बनकर उभरा है जिसका सामना हम सभी को साथ मिलकर करना है। डॉ मोंगा ने निगम के कार्यरत डीण्बीण्सीण् द्वारा किए जाने वाले कार्य की सराहना की।

उपमेयर विपिन बिहारी सिंह ने कहा कि डेंगू रोधी कार्यक्रम का क्रियान्वयन में जनता को इस बीमारी के बारे में जागरूक करके कार्यक्रम में षामिल करना तथा बाद में इस बीमारी की रोकथाम संबंधी कार्य किए जाने चाहिए। उन्होने कहा कि पूर्वी दिल्ली नगर निगम इन बीमारियों की रोकथाम के लिए हर संभंव प्रयत्न कर रहा है। संतोश पाल ने कहा कि डेंगू व मलेरिया के बढते प्रकोप के प्रति अपनी चिंता व्यक्त की। उन्होने कहा कि समय रहते इन बीमारियों के बचाव संबंधी उपाय किए जाने चाहिए जिसकी षुरूआत स्वयं के घर से ही होती है। अब्दुल रहमान ने कहा कि डेंगू एक जानलेवा बीमारी है इसलिए आवष्यक है कि प्रषासन मानसून के आगमन से पहले ही इसके लिए एक पूर्वनियोजित प्रबंध करे। साथ ही  उन्होने कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रम सभी 64 वार्डो में क्रमबद्ध रूप से आयोजित किए जाने चाहिए जिससे क्षेत्र की जनता को इस बीमारी के संबंध में जागरूक किया जा सके।

 निगम स्वास्थ्य अधिकारी डा एनआर दास ने मच्छरों की उत्पत्ति के चक्र के बारे में विस्तार से बताया। उन्होने कहा कि डेंगू, चिकुनगुनिया फैलाने वाला एडीज मच्छर साफ स्वच्छ पानी में पनपता है इसलिए अपने घर में व आस पास पानी इकटठा ना होने दें। दास ने कहा कि इस संबंध मेंं तमाम प्रचार माध्यमों द्वारा जनता को जागरूक करने का कार्य किया जा रहा है पर जनसहयोग के बिना हमारे सभी प्रयास निरर्थक है।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो