sulabh swatchh bharat

शनिवार, 19 अगस्त 2017

11 बार री-टेक हुआ था-टॉम अल्टार

शतरंज के खिलाड़ी का एक  सिक्वेंस था, जहां मैं सर रिचर्ड एटनबरो के साथ वाजिद अली शाह के बारे में चर्चा कर रहा हूं। हर बार शॉट दे रहा था और देख रहा था कि मिस्टर रे कैमरे के पीछे से ओके गुड शॉट कहकर एक और शॉट देने के लिए कह रहे है। लगभग 11 बार री-टे के बाद मैं और रिचर्ड सर समझ पाए कि असल में कैमरे के अंदर कोई रील ही नहीं है। पूरा ही डमी रिहर्सल था। मिस्टर रे पूरी तरह से होमवर्क  करने के बिना कोई काम नहीं करते थे। शूटिंग समाप्त होने के बाद उन्होंने मुझसे कहा था-टॉम वेरी गुड....कीप अप द गुड वर्क’ उनकी यह बातें आज भी मेरे अंदर एक  ऊर्जा भर देती हैं।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो