sulabh swatchh bharat

शुक्रवार, 24 नवंबर 2017

मेक इन इंडिया के लिए पहल

मेक इन इंडिया के लिए बिजली कंपनी टाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रिब्यूशन ने पहल की है।

नई दिल्लीः बिजली कंपनी टाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रिब्यूशन (टाटा पावर-डीडीएल) ने भारत सरकार के 'मेक इन इंडिया' पहल में योगदान देने के क्रम में एक और प्रयास को साकार किया है। टाटा पावर-डीडीएल ने अपने परिचालन वाले इलाकों में व्यावसायिक और औद्योगिक कनेक्शन के लिए आवेदन करने के 15 दिनों के भीतर बिजली का कनेक्शन दिया जा रहा है। नए कनेक्शन देने की प्रक्रिया को और भी सरल बनाने के लिए कई चरणों को घटाने के साथ ही रीयल टाइम स्थिति को देखने के प्रावधान की वजह से यह प्रक्रिया तेज और आसान हुई है, जिससे उपभोक्ताओं के संतुष्टि अनुभव स्तर में काफी सुधार हुआ है। 

नए कनेक्शन के लिए जहां पहले सात चरणों की प्रक्रियाओं को अपनाया जाता था, जिसे अब घटाकर तीन चरणों में बनाकर पूरी प्रक्रिया को सरल बनाया गया है। इसके साथ ही डॉक्यूमेंट्स के मामले में भी सहजता प्रदान की गई है और अब सेल्फ-सटिर्फाइड डिक्लेरे?ान के साथ केवल दो दस्तावेज मालिकाना हक-किराये का प्रमाण और पहचान का प्रमाण की ही जरूरत पड़ती है। 

टाटा पावर-डीडीएल ने अपनी वेबसाइट पर भी ऑनलाइन सुविधा शुरू की है, जिसके माध्यम से उपभोक्ता अपने नए कनेक्शन के आवेदन कर सकते हैं, दस्तावेज जमा कर सकते हैं, डिमांड नोट का भुगतान कर सकते हैं और अपने नए कनेक्शन की स्थिति को तत्काल देख सकते हैं। इन सुधारों से बिजली का कनेक्शन प्राप्त करने में लगने वाले समय में कापफी कमी आई है, जिसके परिणामस्वरूप प्रक्रिया को तेज और आसान बन रही है। 

टाटा पावर दिल्ली डिस्ट्रिब्यूशन के मुख्य कायर्कारी अधिकारी और प्रबंध निदेशक प्रवीर सिन्हा ने कहा कि भारत सरकार के मेक इन इंडिया को अमलीजामा पहनाने की दिशा में ही टाटा पावर-डीडीएल ने औद्योगिक और वाणिज्यक उपभोक्ताओं के लिए बिजली का कनेक्शन प्राप्त करने की प्रक्रिया को काफी सरल बनाया है। अब वे न्यूनतम दस्तावेजों की जरूरत के साथ महज 15 दिनों में बिजली का कनेक्शन प्राप्त कर सकते हैं। मेरा मानना है कि हमारी इस पहल से न केवल उपभोक्ताओं के अनुभव में सुधार होगा, बल्कि इसका भारत सरकार की कारोबार सुगमता-मेक इन इंडिया पहल की दिशा में भी अहम योगदान होगा। 



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो