sulabh swatchh bharat

शनिवार, 24 फ़रवरी 2018

the-incredible-roads-of-nevada

नेवादा की अविश्वसनीय सड़कें

एक सप्ताह पहले
नेवादा इलाका क्षेत्रफल के लिहाज से संयुक्त राज्य अमेरिका का सातवां सबसे बड़ा और जनसंख्या के लिहाज से 34वां बड़ा राज्य है। अपने शानदार कैसीनो, बेहतरीन होटलों और अनूठे लाइफस्टाइल के लिए दुनिया भर में चर्चित लास वेगास नेवादा में ही स्थित है। नेवादा को लास वेगास के अलावा एक और चीज के लिए दुनिया भर में जाना जाता है और वह है यहां की विशालकाय, एकांत और बेहतरीन सड़कें। नेवादा में सड़क यात्रा के लिए 6 अविश्वसनीय राजमार्ग व सड़कें हैं। अगर आप सिर्फ लास वेगास के लिए नेवादा जाने की योजना बना रहे हैं तो कैसीनो के इस शानदार शहर के अलावा आपको अनंत सरीखी दिखतीं नेवादा की लुभावनी और सर्पीली सड़कों पर जरूर यात्रा करनी चाहिए। इन सड़कों के माध्यम स...
hightech-village-made-up-of-hard-work

प्रधान की मेहनत से बना हाईटेक गांव

3 सप्ताह पहले
भारत में अब शहरों का ही नहीं गांवों का भी चेहरा बदल रहा है। बिजली, पानी, सड़क के साथ सीसीटीवी कैमरे, गांव की हर गली में डस्टबीन, साथ ही पूरे गांव की हलचल पर एक मोबाइल फोन से नजर रखी जा सकती है, आइए देखें एेसे ही एक गांव को। उत्तर प्रदेश का यह गांव भारत के उन चुनिंदा हाईटेक गांवों में शामिल है, जिसे जियोग्राफिकल इनफॉर्मेशन टैग मिला है। इस गांव के रहने वालों के साथ यहां के प्रधान की तारीफ इसलिए जरूरी है, क्योंकि ये उस इलाके में बसा है, जो गरीबी और पलायन के लिए जाना जाता है। लेकिन यहां आज वे सुविधाएं हैं जो शायद आप को किसी शहर या बड़े कस्बे में भी न मिलें। दरअसल, हम बात कर रहे हैं उत्तर प्रदेश सबसे पिछड़े इलाकों में शामिल सिद्धार्थ...
yuvi-war-against-cancer

कैंसर के खिलाफ युवी की जंग

4 सप्ताह पहले
युवराज भारतीय क्रिकेट के सबसे सफल खिलाड़ियों में गिने जाते हैं। वर्ष 2003, 2007 और 2011 के क्रिकेट विश्व कप टूर्नामेंट में उनके बेहतर प्रदर्शन की बदौलत भारत ने विश्व क्रिकेट में नए-नए मुकाम हासिल किए थे। 2011 के विश्व कप मैचों के दौरान युवराज मीडियास्टिनल सेमिनोमा डिसीज के शिकार हो गए थे। मीडियास्टिनल सेमिनोमा एक तरह का कैंसर है जो सामान्यतः पुरुषों के जननांगो में होता है। युवराज के मामले में यह उनके दिल से बाएं फेफड़े के बीच के हिस्से में था। युवराज ने कीमोथेरेपी के जरिए इस घातक बीमारी पर जीत हासिल कर ली। कैंसर आज के दौर की ऐसी जटिल समस्या है जिसके मरीजों की संख्या तो दिनोदिन बढ़ रही है लेकिन उसके गंभीर स्थिति में इलाज का कोई फ...
constitution-and-manufacturing

संविधान का मान और निर्माण

4 सप्ताह पहले
भारतीय संविधान की प्रारूप निर्माण समिति के अध्यक्ष डॉ. भीमराव आंबेडकर ने यह भाषण औपचारिक रूप से अपना कार्य समाप्त करने से एक दिन पहले, यानी 25 नवंबर 1949 को दिया था। इस मौके पर उन्होंने कुछ चेतावनियां भी दी हैं, जिसे देश के कामयाब जनतांत्रिक भविष्य के लिए हमें आज भी याद रखना होगा। प्रस्तुत है उनके इस भाषण का संपादित अंश- एक संविधान चाहे जितना बुरा हो, वह अच्छा साबित हो सकता है, यदि उसका पालन करने वाले लोग अच्छे हों। संविधान की प्रभावशीलता पूरी तरह उसकी प्रकृति पर निर्भर नहीं है। संविधान केवल राज्य के अंगों - जैसे विधायिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका - का प्रावधान कर सकता है। राज्य के इन अंगों का प्रचालन जिन तत्वों पर निर्...
so-that-blood-of-every-needy

ताकि हर जरूरतमंद को मिले रक्त

5 सप्ताह पहले
खून के रिश्ते को लेकर न जाने कितने किस्से-कहानियां समाज में मौजूद हैं। कितनी फिल्में बन चुकी हैं और उससे जुड़े संवादों की गिनती तो और भी मुश्किल है। इसका दूसरा चेहरा यह भी है कि खून की होली खेलने वालों की भी कमी नहीं है। जब भी मन हिंसक होता है तो खून का टपकना और टपकाना उसकी पहली शर्त बन जाता है। मुहावरा भी है कि आंखों में खून उतर आया। इस सभ्यता का सबसे बड़ा अभिशाप यह है कि दुनिया में जीवन को बचाने के लिए जितने खून की जरुरत है, उससे ज्यादा खून दंगे-फसाद, छोटी-छोटी लड़ाई और युद्ध में बह जा रहा है। यह एक अजीब विरोधाभास है कि बेवजह बहने वाला खून की चिंता देशों की प्राथमिकता में नहीं है लेकिन खून की कमी को दूर करने की कोशिश एक अभियान मे...
first-education-then-marriage

पहले शिक्षा फिर शादी

6 सप्ताह पहले
बिहार के ग्रामीण इलाकों में आभिशाप बन चुके बाल विवाह के खिलाफ जागरुकता फैलाने की एक अनूठी पहल में शामिल दर्जनों लड़कियों में से एक 16 वर्षीय अंजलि कुमारी ने एक स्कूल शिक्षक बनने के अपने सपने को पूरा करने के लिए हिम्मत दिखाई और जिले में इस प्रथा के खिलाफ खड़ी हुई। बुमुआर के एक सरकारी स्कूल में 11वीं कक्षा की छात्रा अंजलि इन दिनों में अपनी हमउम्र लड़कियों के साथ अपने खपरैल घर के दो कमरों के बाहर सहज भाव में दिखाई दे रही है और 'लगन' (गर्मियों में शादी का मौसम) के दौरान शादी से इनकार करने की घटना को याद करती है। यह सब एक गरीब लोहार की बेटी के लिए इतना आसान नहीं था। अंजलि ने कहा, ‘जब मेरी मां ने मुझ पर दबाव डाला ...
india-is-a-country-of-mathematicians

गणितज्ञों का देश है भारत

9 सप्ताह पहले
आज दुनिया भारतीय गणितज्ञों द्वारा किए गए योगदान के लिए बहुत ऋणी है। भारतीय गणितज्ञों द्वारा किए गए सबसे महत्वपूर्ण योगदान में से एक दशमलव प्रणाली का परिचय और शून्य का आविष्कार था। इन गणितज्ञों को ही यह श्रेय है कि उन्होंने गणित को नए दौर का का सबसे श्रेष्ठ विषय बना दिया। गणित दिवस भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने 22 दिसंबर 2012 को चेन्नई में महान गणितज्ञ श्रीनिवास अयंगर रामानुजन की 125वीं वर्षगांठ के मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम में श्रीनिवास रामानुजम को श्रद्धांजलि देते हुए वर्ष 2012 को राष्ट्रीय गणित वर्ष एवं रामान...
geneu-sacrifice-and-indigenous-movement

गेनू का बलिदान और स्वदेशी आंदोलन

11 सप्ताह पहले
स्वदेशी आंदोलन भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन का एक महत्वपूर्ण आंदोलन, सफल रणनीति व दर्शन था। स्वदेशी का अर्थ है- 'अपने देश का'। इस रणनीति के लक्ष्य ब्रिटेन में बने माल का बहिष्कार करना तथा भारत में बने माल का अधिकाधिक प्रयोग करके साम्राज्यवादी ब्रिटेन को आर्थिक हानि पहुंचाना व भारत के लोगों के लिए रोजगार सृजन करना था। यह ब्रितानी शासन को उखाड़ फेंकने और भारत की समग्र आर्थिक व्यवस्था के विकास के लिए अपनाया गया साधन भी था। वर्ष 1905 के बंग-भंग विरोधी जनजागरण से स्वदेशी आंदोलन को बहुत बल मिला। यह 1911 तक चला और गांधी जी के भारत में पदार्पण के पूर्व सभी सफल आंदोलनों में से एक था। अरविंद घोष, रवींद्रनाथ ठाकुर, वीर सावरकर, ल...
the-history-of-the-presidency-was-alive

प्रेसीडेंसी का इतिहास हुआ जीवंत

12 सप्ताह पहले
छह साल पुरानी प्रेसीडेंसी यूनिवर्सिटी ने दुनिया भर में विश्वविद्यालयों की शानदार लीग में प्रवेश किया है और यह एशिया के पहले स्नातक महाविद्यालय के रूप में अपना 200 वां वर्षगांठ मना रहा है। इसके साथ ही संस्थान की वास्तविक पहुंच बनाने के लिए गूगल कला और संस्कृति के साथ गठजोड़ भी किया गया है। कुछ महीने पहले शुरू की गई पहल प्रेसीडेंसी की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत तक पहुंचने में ई-ट्रैवेलर्स को काफी मदद करती है। अगर कोई इसे देखता है तो यात्रियों को स्वामी विवेकानंद, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, वैज्ञानिक सत्येंद्रनाथ बोस, बंकिम चंद्र चटर्जी, प्रतिष्ठित सांख्यिकीविद् प्रशांत चंद्र महालनोबिस, सत्यजीत राय जैसे नामों के बारे में विस्मय से जानने...
new-clothes-for-clothes

कपड़े की नई उड़ान

13 सप्ताह पहले
एसोचैम तथा रिसर्जेंट ने हाल ही में अपने संयुक्त अध्ययन के आधार पर जारी की रिपोर्ट में यह बात कही है कि अगले दो वर्षों में भारतीय टेक्सटाइल उद्योग नई ऊंचाइयों को छूता हुआ 250 अरब डॉलर पर पहुंच जाएगा, जो कि वर्तमान में 150 अरब डॉलर है। इस अध्ययन से इस बात की पुष्टि होती है कि नोटबंदी के कारण जो तात्कालिक प्रभाव पड़े थे, अब यह उद्योग उससे उबर चुका है। यह तथ्य उस दूरदर्शितापूर्ण निर्णय की जीत है, जो मोदी सरकार ने देशहित में लिया था। इसके अतिरिक्त मोदी सरकार के और कई ऐसे प्रयास हैं, जिनसे भारतीय वस्त्र उद्योग को नई दिशा-दशा मिली। रोजगार में नंबर दो&nbs...
seven-hundred-year-old-script-cathy

700 साल पुरानी लिपि 'कैथी'

16 सप्ताह पहले
एक ऐसे दौर में जब भाषाएं ही एक के बाद एक प्रचलन से बाहर हो रही हैं, तो उनकी लिपियों की हालत क्या होगी, यह आसान से समझा जा सकता है। ऐसी ही एक लिपि है- कैथी। कैथी एक ऐतिहासिक लिपि है, जिसे मध्यकालीन भारत में प्रमुख रूप से उत्तर-पूर्व और उत्तर भारत में काफी बृहत रूप से प्रयोग किया जाता था। खासकर आज के उत्तर प्रदेश एवं बिहार के क्षेत्रों में इस लिपि में वैधानिक एवं प्रशासनिक कार्य किए जाने के भी प्रमाण पाए जाते हैं। पूर्ववर्ती उत्तर-पश्चिम प्रांत, मिथिला, बंगाल, उड़ीसा और अवध में। इसका प्रयोग खासकर न्यायिक, प्रशासनिक एवं निजी आंकड़ो के संग्रहण में किया जाता था।
the-weavers-are-weaving

बुनी जा रही बुनकरों की तकदीर

18 सप्ताह पहले
भारत हस्त निर्मित वस्त्रों और हस्तशिल्प के मामले में खासा समृद्ध है, जिसको लेकर उसे देश से ही नहीं, बल्कि विदेश से भी सराहना मिलती रही है और खरीदार भी इनकी ओर आकर्षित होते रहे हैं। भारत में आंध्र प्रदेश और ओडिशा की जटिलता से बुनी गई इकात साड़ी, गुजरात की पाटन पटोला, उत्तर प्रदेश की बनारसी साड़ी, मध्य प्रदेश की महीन माहेश्वरी बुनाई या तमिलनाडु की काष्ठ या पत्थर से बनी मूर्तिकारी के अलावा भी काफी कुछ मौजूद है, जिन्हें दुनिया में हथकरघा और हस्तशिल्प के मामले में अलग पहचान मिली हुई है। भारत में बुनकरों और कारीगरों को वस्त्र और हथकरघा की समृद्ध विविधता के निर्माण के लिए कड़ी मशक्कत करनी होती है। कपड़ों की बुनकरी और हस्तशिल्प क...


Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो