sulabh swatchh bharat

बुधवार, 20 सितंबर 2017

preet-kaur-gill-women-sikh-in-uk-parliamentary-panel

प्रीत कौर गिल - ब्रिटेन के संसदीय पैनल में महिला सिख

8 सप्ताह पहले
ब्रिटेन के संसदीय चयन समिति में पहली बार सिख महिला सांसद प्रीत कौर गिल को चुना गया है। चयन समिति गृह कार्यालय के कामकाज का निरीक्षण करती है। प्रीत लेबर पार्टी की सांसद हैं और इन्होंने बर्मिंघम एबेस्टन सीट से वर्ष 2017 में चुनाव जीता है।  प्रीत उन 11 सांसदों में से एक हैं, जो गृह मंत्रालय के क्रियाकलाप को देखेंगी। लेबर पार्टी की सांसद कैथ वैज नौ साल के लिए इस चयन समिति की अध्यक्ष थीं, लेकिन पिछले साल सितंबर में उन्हें ड्रग्स के आरोपों के कारण पद छोड़ना पड़ा। प्रीत गिल ने कहा कि चयन समिति में चुने जाने के बाद वह बेहद खुश हैं। संसद के भंग होने के बाद इस समिति को निरस्त कर दिया गया था, लेकिन अब पुन: इसे बहाल किया गया है। उन्होंने बताया कि मैं जांच के काम में रुचि रखती ह...
Britain-youngest-physician

अर्पण दोषी - सबसे युवा डॉक्टर

8 सप्ताह पहले
भारतीय चिकित्सा जगत में इन दिनों अर्पण दोशी का नाम खासा चर्चा में है। भारतीय मूल के दोषी जल्द ही उत्तर-पूर्व ब्रिटेन के एक अस्पताल में काम करने वाले देश के सबसे युवा डॉक्टर बन जाएंगे। अर्पण दोषी ने 21 साल, 335 दिन की उम्र में यूनिवर्सिटी ऑफ शेफील्ड से बैचलर ऑफ मेडि​िसन और बैचलर ऑफ सर्जरी में स्नातक डिग्री हासिल की है। वह अगले महीने जूनियर डॉक्टर के तौर पर काम करना शुरू कर देंगे। इसके साथ ही वे सबसे युवा कामकाजी डॉक्टर का पिछला रिकाॅर्ड 17 दिन के अंतर से तोड़ देंगे। भारत में जन्मे अर्पण दोषी ने बताया, ‘मुझे पता नहीं था कि मैं योग्यता हासिल करने वाला सबसे युवा व्यक्ति हूं। मेरे एक दोस्त ने इंटरनेट पर यह जानकारी देखी। मैंने अपने माता-पिता को भी अब तक इसके बारे में नहीं बताया है...
pv-sindhu-became-best-player-of-the-year

सिंधू बनीं वर्ष की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी

9 सप्ताह पहले
रियो ओलंपिक खेलों में रजत पदक विजेता पीवी सिंधू को वर्ष की सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के रूप में सम्मानित किया गया है। मारुति सुजुकी की प्रवक्ता ने चैरिटी गाला पुरस्कार विवरण समारोह में उन्हें सम्मानित किए जाने की जानकारी दी। खिलाड़ियों को उनकी उपलब्धियों के लिए प्रदान किए गए पुरस्कार को खेल पत्रिका ‘इंडिया मैगजीन’ ने शुरू किया है। सिंधू के कोच पी. गोपीचंद को वर्ष का श्रेष्ठ कोच पुरस्कार से सम्मानित किया गया। उड़न ‌सिख मिल्खा सिंह को लिविंग लीजेंड ऑफ द ईयर पुरस्कार ने नवाजा गया। हालांकि मिल्खा सिंह समारोह में नहीं पहुंच पाए थे। दिलचस्प बात यह है कि सिंधु और गोपी के अलावा युवा क्रिकेटर आर. एल. राहुल को भी सम्मानित किया गया है। राहुल ने आस्ट्रेलिया के विरुद्ध पिछले क्...
joba-murmu-continuously-engaged-in-creation-of-literature

संताली सृजन की जेवर जोबा 

9 सप्ताह पहले
संथाली की चर्चित लेखिका जोबा मुर्मू को उनके लघु कहानी संग्रह 'ओलोन बहा’ (अलंकार पुष्प) के लिए साहित्य अकादमी का बाल साहित्य पुरस्कार-2017 देने की घोषणा की गई है। जोबा प्राथमिक स्कूल में शिक्षिका हैं। वह कानून में स्नातक के साथ संताली और हिंदी भाषा साहित्य में स्नातकोत्तर हैं। वह ऑल इंडिया संताली राइटर्स एसोसिएसन की सदस्य होने के साथ जाहेरथान कमेटी की कार्यकारी सदस्य भी हैं। उन्होंने कई संताली पुस्तकें लिखीं हैं, जिनमें बहा उमुल (2009), बेवरा (2010), ओलोन बहा (2014), प्रेमचंद की सरस कहानियों का संताली अनुवाद (2014) और रवींद्रनाथ टैगोर रचित 'गीतांजलि का संताली अनुवाद (2015) शामिल हैं। उनकी महिलाओं पर आधारित कहानी पुस्तक ‘तिरला’  जल्द ही प्रकाशित ह...
kalpana-chawla-scholarship-awarded-to-sonal

सोनल बबेरवाल - सोनल को कल्पना चावला स्कॉलरशिप

10 सप्ताह पहले
महाराष्ट्र में अमरावती की रहने वाली सोनल बबेरवाल को पहला कल्पना चावला स्कॉलरशिप पाने का यश हासिल हुआ है। इंटरनेशनल स्पेस यूनिवर्सिटी (आईसीयू) के साथ मिलकर आयरलैंड के कॉर्क इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी ने यह स्कॉलरशिप शुरू की है। गौरतलब है कि भारतीय मूल की अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला का एक फरवरी, 2003 को स्पेस शटल कोलंबिया में अंतरिक्ष से लौटने के वक्त हुई दुर्घटना में निधन हो गया था। स्कॉलरशिप से जुड़ी घोषणा में कहा गया है कि यह ग्लोबल स्पेस कम्युनिटी और मार्केट में भारत की नेतृत्वकारी भूमिका को बल देने के लिए शुरू किया गया है। इस बड़े मकसद से शुरू की गई इस स्कॉलरशिप को पाने वाली सोनल बबेरवाल अमरावती के आर.एल.टी कॉलेज ऑफ स...
indian-origin-jj-kapur-wins-debate-in-us

जेजे कपूर - अमेरिका में जेजे की जय-जय

10 सप्ताह पहले
अमेरिका में भारतीय मूल के सिख छात्र जेजे कपूर इन दिनों अमेरिका में भारतवंशियों के बीच चर्चित नाम है। दरअसल, जेजे ने वहां राष्ट्रीय भाषण और वाद-विवाद प्रतियोगिता जीतने का गौरव प्राप्त किया है। यह अमेरिका में हाईस्कूल स्तर की सबसे प्रतिष्ठित प्रतियोगिता मानी जाती है। जेजे के साथ अच्छी बात यह रही कि उन्होंने 'लेट्स डांस' शीर्षक वाले अपने भाषण को स्वयं लिखा। उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत बॉलीवुड की चर्चा के साथ की और एक सिख-अमेरिकी के तौर पर अपने अनुभवों का जिक्र किया। जेजे कपूर को मौलिक वक्ता श्रेणी में विजेता चुना गया। दिलचस्प है कि जेजे इस प्रतियोगिता के सेमीफाइनल और फाइनल राउंड में शीर्ष स्थान पर रहे, इस कारण उन्होंने चैं...
kavita-devi-first-indian-woman-wrestler-to-compete-in-wwe

कविता देवी - कुश्ती की देवी

11 सप्ताह पहले
कविता देवी भारत की पूर्व पाॅवरलिफ्टर और दक्षिण एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक विजेता रही हैं। लेकिन आज कविता विश्व कुश्ती मनोरंजन (डब्ल्यूडब्ल्यूई) में हिस्सा लेने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान बन गई हैं। उन्हें माई यंग क्लासिक में प्रतिस्पर्धा करने के लिए चुना गया है, जो महिलाओं के लिए पहली बार आयोजित किया गया डब्ल्यूडब्ल्यूई टूर्नामेंट है। कविता देवी हरियाणा की रहने वाली हैं। वे पंजाब स्थित कुश्ती पदोन्नति और प्रशिक्षण अकादमी में पूर्व डब्ल्यूडब्ल्यूई चैंपियन द ग्रेट खली से प्रशिक्षण प्राप्त कर चुकी हैं। इस साल अप्रैल में डब्ल्यूडब्ल्यूई दुबई में हिस्सा लेने के बाद से कविता चर्चा में आ गईं। कविता देवी दसवीं में निपुण कबड्ड...
gyaneshwar-yavatkar-start-world-tour-to-cycle

ज्ञानेश्वर येवतकर - साइकिल से विश्व भ्रमण

11 सप्ताह पहले
26 साल का एक भारतीय समाज सेवी पूरे विश्व में शांति बहाली के लिए साइकिल यात्रा पर निकला है। इस समाजसेवी का मुख्य उद्देश्य दुनियाभर के कई स्कूलों के बच्चों के बीच महात्मा गांधी की शिक्षाओं को फैलाना है। बता दें कि महाराष्ट्र के वर्धा में सेवागढ़ आश्रम के रहने वाले ज्ञानेश्वर येवतकर ने कहा कि उन्होंने अब तक 8,642 किलोमीटर से 70,000 किलोमीटर की अपना वैश्विक साइकिल चालन अभियान पूरा कर लिया है। उन्होंने बताया कि 2 अक्टूबर, 2019 को गांधी जी की 150वीं जयंती पर उनका अभियान पाकिस्तान में पूरा हो जाएगा। उन्होंने कहा कि मैंने पिछले आठ महीनों में भारत-चीन सीमा और आसियान क्षेत्र में कई जगहों की यात्रा की है। इन जगहों पर मुझे अच्छे लोग ...
khushbu-akash-davda-present-artwork-to-pm-modi

खुशबू आकाश दावड़ा - खुशबू के मोती

12 सप्ताह पहले
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसकों की संख्या तो काफी है ही, इनमें कई भिन्न प्रतिभाओं के लोग भी शामिल हैं। प्रधानमंत्री की एक प्रशंसक खुशबू आकाश दावड़ा ने उन्हें एक नायाब तोहफा दिया है। खुशबू ने उन्हें भारत के नक्शे पर मोतियों से बना उनका पोर्ट्रेट भेंट किया है। गुजरात के राजकोट की रहने वाली 24 साल की खुशबू का दावा है कि मोतियों से बना यह दुनिया का सबसे बड़ा आर्ट वर्क है। इस आर्टवर्क पोर्ट्रेट को सिर्फ मोतियों और धागे से बनाया गया है। खुशबू का कहना है कि इसे बनाने में पांच लाख से ज्यादा मोती और करीब 10 किलोमीटर लंबा धागा लगा है। इस आर्टवर्क में 11 रंग के मोती लगाए गए हैं। यह सात फीट लंबा और सात फीट चौड़ा है। इसे बनाने में खुश...
guru-rahman-of-gurukul-in-patna

एम रहमान - गुरुकुल के गुरु रहमान

12 सप्ताह पहले
आधुनिकता के इस दौर में आज भी गुरुकुल की परंपरा कायम है। जहां प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग संस्थान लाखों की फीस वसूलते हैं, वहीं पटना का एक संस्थान सिर्फ ग्यारह रुपए गुरु दक्षिणा लेकर छात्रों को दारोगा से लेकर आईएएस-आईपीएस बनाता है। हर साल यहां जब यूपीएससी और बीपीएससी से लेकर स्टेट स्टॉफ सलेक्शन का रिजल्ट आता है तो इस गुरुकुल में जश्न का माहौल होता है। यहां सिर्फ बिहार और झारखंड से ही नहीं, बल्कि उत्तर प्रदेश, उतराखंड और मध्य प्रदेश से भी छात्र-छात्राएं पढ़ाई करने आते हैं। इस गुरुकुल के प्रधान हैं रहमान, जिन्हें सभी गुरु रहमान के नाम से जानते हैं। दिलचस्प है कि रहमान वेदों के ज्ञाता भी हैं। उनके गुरुकुल में वेदों की ...
jhulan-goswami-make-records-highest-wicket-taker-in-women-odi

झूलन गोस्वामी - झूलन का रिकॉर्ड

13 सप्ताह पहले
जहां एक तरफ भारतीय क्रिकेट टीम अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपने प्रदर्शन से लोगों को प्रभावित कर रही है तो वहीं भारतीय महिला क्रिकेट टीम में झूलन गोस्वामी एक नया आयाम जोड़ रहीं हैं। उन्होंने महिला एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा 180 विकेट लेने का रिकॉर्ड बनाया है। इस रिकॉर्ड के साथ ही वह ऑस्ट्रेलिया की गेंदबाज कैथरीन फिट्ज़पैट्रिक को पीछे छोड़ दिया है, लेकिन एक क्रिकेटर के रूप में झूलन की यात्रा इतनी आसान नहीं थी।  झूलन का जन्म पश्चिम बंगाल के एक छोटे से शहर नदिया में हुआ। वह अपने शहर में सबसे लंबी लड़की थी। अगर वह सड़क पर निकलती तो लोग पीछे मुड़ कर उन्हें देखते थे। बचपन में क्रिकेट उसके लिए जुनून बन गया ...
jasvinder-sanghera-became-voice-of-women-freedom

जसविंदर संघेरा - आजादी की आवाज

13 सप्ताह पहले
इस बदलते परिवेश में जहां महिलाएं भी पुरुषों के साथ कदम मिला कर चल रही हैं और हर सुख-दुख में उनका साथ दे रहीं हैं, तो वहीं आज भी कुछ इलाकों में लड़कियों को शादी के लिए मजबूर किया जाता है। ऐसी महिलाओं और लड़कियों को इस प्रताड़ना से बचाने की लंबी लड़ाई 52 साल की जसविंदर संघेरा लड़ रही हैं। बता दें कि जसविंदर का एक गैर-सरकारी संगठन ‘कर्मा निर्वाण’ है। यह संगठन अपमानजनक संबंध में फंसी या दबाव में की जाने वाली शादी से बचाने और महिलाओं के साथ होने वाले किसी भी तरह के अपराध के खिलाफ उनकी मदद करता है। जसविंदर एक अत्यधिक प्रशंसित अंतरराष्ट्रीय स्पीकर और अदालतों की एक विशेषज्ञ सलाहकार भी हैं।  जसविंदर को &lsq...


Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो