sulabh swatchh bharat

शनिवार, 15 दिसंबर 2018

world-champion

एम.सी. मैरी कॉम - फिर विश्व चैंपियन

एक सप्ताह पहले
35 वर्षीय मैरी कॉम ने हाल में नई दिल्ली के केडी जाधव इंडोर स्टेडियम में हेना को एकतरफा मैच में 5-0 से हराया। विश्व चैंपियनशिप में मैरी कॉम ने आखिरी बार 2010 में स्वर्ण पदक जीता था। इसके अलावा वह 2002, 2005, 2006 और 2008 में भी स्वर्ण पदक जीत चुकी हैं। इसी रिकॉर्ड के साथ मैरी कॉम ने आयरलैंड की केटी टेलर का पांच बार विश्व चैंपियनशिप जीतने के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। साथ ही उन्होंने विश्व चैंपियनशिप के इतिहास में पुरुष बॉक्सर फेलिक्स सेवन के छह बार के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली है। यूक्रेन की हेना केवल 22 साल की हैं। उनके और मैरी कॉम के बीच में 13 साल की आयु का अंतर है। मणिपुर में एक गरीब परिवार में जन्मीं मैरी कॉम के परिवार वाले...
new-flower-of-science

पुष्प कमल - विज्ञान का नया पुष्प

एक सप्ताह पहले
भारत ने अंतरिक्ष की दुनिया में एक और नया कीर्तिमान स्थापित कर लिया है। पटना के रहनेवाले अमल पुष्प को रॉयल एस्ट्रोनॉमिकल सोसाइटी ने ब्लैक होल पर किए गए उनके रिसर्च पेपर वर्क की बदौलत अपने फेलो के तौर पर चुना है। केवल 18 साल की उम्र में वे संभवत: इस फेलोशिप को पानेवाले सबसे कम उम्र के व्यक्ति बन गए हैं। अमल को कैंब्रिज विश्वविद्यालय के शीर्ष ब्रिटिश खगोलविद और एमरिटस प्रोफेसर लॉर्ड मार्टिन रीस की ओर से नामांकित किया गया था। प्रोफेसर रीस की मानें तो वे अमल के रिसर्च पेपर वर्क से काफी प्रभावित हैं। अमल का सफर अंतरराष्ट्रीय साइंटिफिक कम्युनिटी में अपनी पहचान बनाने का उस वक्त शुरू हुआ, जब उन्होंने अपने रिसर्च वर्क का एक पेपर ने...
first-director-of-iim-c

प्रो. अंजु सेठ - आईआईएम-सी की पहली निदेशक

2 सप्ताह पहले
देश के सबसे पुराने बिजनेस स्कूल में शुमार इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट- कलकत्ता (आईआईएम-सी) का बीते पांच दशकों से श्रेष्ठ संस्थानों में स्थान रहा है। पर इस दौरान वहां कभी भी कोई महिला निदेशक कभी नहीं रही। पर इस प्रसिद्ध संस्थान की प्रतिष्ठा के साथ लंबे समय से चला आ रहा यह विरोधाभास अब जाकर टूटा है।  आईआईएम-सी को अपना पहला महिला निदेशक मिला है। आईआईएम-सी से ही अपनी पढ़ाई पूरी करने वाली प्रो. अंजु सेठ अब वहां की नई निदेशक हैं। प्रो. सेठ का चुनाव भी यों ही नहीं हुआ, बल्कि नियम के मुताबिक इसके लिए जरूरी चयन प्रक्रिया अपनाई गई। इसके लिए संस्थान के नियामक मंडल ने एक चयन समिति बनाई। इस समिति ने पहले प्रो. सेठ का नाम अन्य...
get-rid-of-paan-stains

रामनारायण रूईया कॉलेज - पान के दाग से छुटकारा

2 सप्ताह पहले
पान के दाग को मिटाना आसान नहीं है, लेकिन मुंबई के रुईया कॉलेज की युवा शोधकर्ताओं के समूह ने इसे आसान कर दिया है। छात्राओं ने जैविक संश्लेषण के आधार पर पर्यावरण-पूरक एक तरीका खोज निकाला है। कॉलेज की प्रध्यापिका डॉ. मयूरी रेगे ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को खुद इसकी जानकारी दी। छात्राओं को ‘स्वच्छ भारत अभियान’ से इस तरह के शोध के लिए प्रेरणा मिली है।  मुंबई को अपने उपनगरीय रेलवे स्टेशनों की इमारतों और लोकल के डिब्बों में पान के दाग को साफ करने के लिए हर महीने करोड़ों रुपये खर्च करने पड़ते हैं। नई खोज से ये दाग आसानी से छूट जाएंगे।  इस शोध परियोजना में ऐश्वर्या राजूरकर, अंजली वैद्य, कोमल परब, निष्ठा पा...
dignity-of-taste

गरिमा अरोड़ा - स्वाद की गरिमा

3 सप्ताह पहले
शेफ गरिमा अरोड़ा के बैंकॉक स्थित रेस्तरां जीएए को मिशलिन स्टार अवॉर्ड मिला है। इसके साथ ही गरिमा मिशलिन स्टार हासिल करने वाली पहली भारतीय महिला बन गई हैं। बैंकॉक स्थित गरिमा का रेस्तरां जीएए सिर्फ डेढ़ साल पुराना है और मिशलिन की तरफ से यह सम्मान पाना उनके लिए किसी सपने के सच होने जैसा है। बैंकॉक में अपना रेस्तरां खोलने से पहले गरिमा मशहूर शेफ गगन आनंद के रेस्तरां गगन में एक साल काम कर चुकी हैं। गगन का रेस्तरां पिछले 7 सालों से एशिया के 50 बेस्ट रेस्तरां की लिस्ट में पहले नंबर पर काबिज है। गरिमा बताती हैं कि उनके पिता बहुत ज्यादा यात्रा करते थे और घर लौटकर उन लोगों के लिए तरह-तरह की डिशेज बनाया करते थे, तभी से उन्हें खाने से प्या...
wrestling-number-one

बजरंग पूनिया - पहलवान नंबर वन

3 सप्ताह पहले
स्टार भारतीय पहलवान बजरंग पूनिया ने 65 किग्रा वर्ग में शीर्ष विश्व रैंकिंग हासिल की है। मौजूदा सत्र में पांच पदक जीतने वाले 24 साल के बजरंग यूडब्ल्यूडब्ल्यू की सूची में 96 अंक के साथ रैंकिंग तालिका में शीर्ष पर हैं। इस वर्ष उन्होंने राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के अलावा विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक हासिल किया था। बजरंग के लिए यह सत्र शानदार रहा और वह बुडापेस्ट विश्व चैंपियनशिप में वरीयता पाने वाले एकमात्र भारतीय पहलवान रहे थे।  बजरंग ने कहा, ‘हर एथलीट अपने करियर में दुनिया का नंबर एक बनने का सपना संजोता है। अगर मैं विश्व चैंपियनशिप के स्वर्ण पदक के साथ नंबर एक बनता तो यह बेहतर होता।’ उ...
human-rights

असमा जहांगीर - मानवाधिकार की असमा

4 सप्ताह पहले
प्रसिद्ध मानवाधिकार कार्यकर्ता असमा जहांगीर का पिछले वर्ष दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। उन्हें इस वर्ष दिसंबर में संयुक्त राष्ट्र का मानवाधिकार पुरस्कार दिया जाएगा। संयुक्त राष्ट्र महासभा की अध्यक्ष मारिया फर्नैंडा एस्पिनोसा गार्सेस ने हाल में इसकी घोषणा की। यह प्रतिष्ठित पुरस्कार उन लोगों को दिया जाता है, जिन्होंने मानवाधिकार के क्षेत्र में बेहतरीन काम किया है। इसे पाने वालों में मार्टिन लूथ किंग, नेल्सन मंडेला और जिमी कार्टर जैसी हस्तियां शामिल हैं।  असमा पाकिस्तान के उन चुनिंदा सामाजिक कार्यकर्ताओं में शुमार होती थीं जो सत्ता-संस्थानों के अन्याय के खिलाफ खुलकर बोलते थे, खास तौर पर सैन्य तानाशाही की तो वे मु...
brilliant-time

समय गोडिका - मेधावी समय

4 सप्ताह पहले
बेंगलुरु के रहने वाले समय ने ‘ब्रेकथ्रू जूनियर चैलेंज’ में दुनियाभर के 6,000 स्टूडेंट्स को पीछे छोड़ते हुए सेमीफाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली है। इस प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार पाने वाले प्रतिभागी को लगभग डेढ़ करोड़ रुपए प्रदान किए जाएंगे, वहीं जिस अध्यापक से प्रेरित होकर प्रतिभागी ने इस प्रतियोगिता में भाग लिया होगा उसे भी तीस लाख का पुरस्कार मिलेगा। समय को यह पुरस्कार फेसबुक पर उसके वीडियो को मिले लाइक, शेयर और पॉजिटिव रिएक्शंस के आधार पर मिलेगा। सभी 30 प्रतिभागियों के वीडियो पब्लिक वोट के लिए फेसबुक पर शेयर किए गए हैं। कैंसर, अल्जाइमर या पार्किंसन जैसी बीमारियों से लड़ने के लिए सिर्फ मेडिकल ट्रीटमेंट की ...
enhanced-value-of-india

मीनल पटेल डेविस - भारत का बढ़ाया मान

6 सप्ताह पहले
अमेरिकी महानगर ह्यूस्टन के मेयर सिलवेस्टर टर्नर की मानव तस्करी पर विशेष सलाहकर मीनल पटेल डेविस को हाल में व्हाइट हाउस में एक कार्यक्रम में मानव तस्करी से लड़ने के लिए राष्ट्रपति पदक प्रदान किया गया। इस कार्यक्रम में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी मौजूद रहे। पुरस्कार पाने के बाद डेविस ने कहा, ‘यह अविश्वसनीय है।’ यह इस क्षेत्र में देश का सर्वोच्च सम्मान है। उन्होंने कहा, ‘मेरे माता-पिता भारत से यहां आए थे। मैं अमेरिका में जन्म लेने वाली अपने परिवार की पहली सदस्य हूं। कई साल पहले मेयर कार्यालय से अब व्हाइट हाउस तक आना अविश्वसनीय है।’  जुलाई, 2015 में विशेष सलाहकार नियुक्त की गईं डेविस ने अमेरिका के ...
jasmine-days

बेन्यामिन - ‘जैस्मिन डेज’ की धूम

6 सप्ताह पहले
साहित्य के क्षेत्र में प्रदान किया जाने वाला पहला जेसीबी पुरस्कार मलयाली लेखक बेन्यामिन को उनकी किताब ‘जैस्मिन डेज’ के लिए मिला है, जो पश्चिम एशिया में रहने वाले दक्षिण एशियाई लोगों की जिंदगी पर आधारित है। देश में साहित्य के क्षेत्र में सबसे अधिक राशि प्रदान करने वाले पुरस्कार की घोषणा करते हुए ज्यूरी के अध्यक्ष विवेक शानबाग ने कहा कि बेन्यामिन की किताब मूलत: मलयालम में लिखी गई है और इसका शहनाज हबीब ने अंग्रेजी में अनुवाद किया है।  बेन्यामिन को पुरस्कार के रूप में 25 लाख रुपए नकद और एक शानदार ट्राफी प्रदान की गई। इसके अलावा हबीब को पांच लाख रुपए का अति​िरक्त पुरस्कार भी दिया गया। बेन्यामिन की किताब &lsquo...
science-of-respect

अभय आश्तेकर - सम्मान का विज्ञान

7 सप्ताह पहले
चार दशकों से गुरुत्वाकर्षण विज्ञान के क्षेत्र में महत्वपूर्ण शोध कर रहे भारतीय-अमेरिकी प्रोफेसर अभय आश्तेकर को प्रतिष्ठित आइंस्टीन पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। अमेरिकन फिजिकल सोसाइटी द्वारा दिए जाने वाले पुरस्कार के तहत विजेता को 10 हजार डॉलर का इनाम दिया जाता है। महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन के नाम पर दिए जाने वाले इस पुरस्कार की शुरुआत 1999 में हुई थी। पेंसलवेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी के इंस्टीट्यूट फॉर ग्रैविटेशन एंड द कॉसमास के निदेशक अभय को यह पुरस्कार सामान्य सापेक्षता, ब्लैक होल के सिद्धांत व क्वांटम फिजिक्स के क्षेत्र में बेहतरीन योगदान के लिए दिया जा रहा है। पुरस्कार पाने को लेकर उत्साहित अभय ने कहा, ‘स...
judo-victory

तबाबी देवी - जूडो की जीत

8 सप्ताह पहले
थंगजान तबाबी देवी ने ओलंपिक स्तर पर भारत को जूडो में पहला पदक दिलाते हुए युवा खेलों में महिलाओं के 44 किलो वर्ग में रजत पदक जीता है। मणिपुर की एशियाई कैडेट चैंपियन तबाबी देवी को यूथ ओलंपिक के फाइनल में वेनेजुएला की मारिया जिमिनेज ने 11-0 से हराया। इससे पहले भारत ने जूडो में सीनियर या जूनियर किसी भी स्तर पर कभी ओलंपिक पदक नहीं जीता था। तबाबी ने सेमीफाइनल में क्रोएशिया की विक्टोरिया पुलिजिच को 10-0 से हराया था। उससे पहले उसने भूटान की यांगचेन वांगमो को 10-0 से मात दी थी। मौजूदा खेलों में उनका रजत भारत का दूसरा पदक है। इससे पहले निशानेबाज तुषार माने ने 10 मीटर एयर राइफल में दूसरा स्थान हासिल किया था। तैराकी में राष्ट्रीय चैं...


Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो