sulabh swatchh bharat

सोमवार, 22 अक्टूबर 2018

science-of-respect

अभय आश्तेकर - सम्मान का विज्ञान

3 घंटे पहले
चार दशकों से गुरुत्वाकर्षण विज्ञान के क्षेत्र में महत्वपूर्ण शोध कर रहे भारतीय-अमेरिकी प्रोफेसर अभय आश्तेकर को प्रतिष्ठित आइंस्टीन पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। अमेरिकन फिजिकल सोसाइटी द्वारा दिए जाने वाले पुरस्कार के तहत विजेता को 10 हजार डॉलर का इनाम दिया जाता है। महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन के नाम पर दिए जाने वाले इस पुरस्कार की शुरुआत 1999 में हुई थी। पेंसलवेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी के इंस्टीट्यूट फॉर ग्रैविटेशन एंड द कॉसमास के निदेशक अभय को यह पुरस्कार सामान्य सापेक्षता, ब्लैक होल के सिद्धांत व क्वांटम फिजिक्स के क्षेत्र में बेहतरीन योगदान के लिए दिया जा रहा है। पुरस्कार पाने को लेकर उत्साहित अभय ने कहा, ‘स...
judo-victory

तबाबी देवी - जूडो की जीत

एक सप्ताह पहले
थंगजान तबाबी देवी ने ओलंपिक स्तर पर भारत को जूडो में पहला पदक दिलाते हुए युवा खेलों में महिलाओं के 44 किलो वर्ग में रजत पदक जीता है। मणिपुर की एशियाई कैडेट चैंपियन तबाबी देवी को यूथ ओलंपिक के फाइनल में वेनेजुएला की मारिया जिमिनेज ने 11-0 से हराया। इससे पहले भारत ने जूडो में सीनियर या जूनियर किसी भी स्तर पर कभी ओलंपिक पदक नहीं जीता था। तबाबी ने सेमीफाइनल में क्रोएशिया की विक्टोरिया पुलिजिच को 10-0 से हराया था। उससे पहले उसने भूटान की यांगचेन वांगमो को 10-0 से मात दी थी। मौजूदा खेलों में उनका रजत भारत का दूसरा पदक है। इससे पहले निशानेबाज तुषार माने ने 10 मीटर एयर राइफल में दूसरा स्थान हासिल किया था। तैराकी में राष्ट्रीय चैं...
elderly-remembered-pilot

विकास जयानी - बना पयालट तो याद आए बुजुर्ग

एक सप्ताह पहले
वादा करना बहुत आसान है, लेकिन उस वादे को निभा पाना उतना ही मुश्किल। वैसे दुनिया में आज भी वादों को पक्के लोग हैं। ऐसे ही एक शख्स का नाम है विकास जयानी। वे आदमपुर, ​िजला हिसार के सारंगपुर गांव के रहने वाले हैं। उन्होंने अपने बुजुर्गों की दिली ख्वाहिश को पायलट बनने के बाद पूरा किया। पायलट बनने के बाद जयानी जब अपने गांव वापस लौटे तो उन्होंने नई दिल्ली से अमृतसर के बीच अपने गांव के 70 साल से ऊपर के लोगों के लिए हवाई यात्रा का इंतजाम किया। बुजुर्गों ने स्वर्ण मंदिर, वाघा सीमा और जलियांवाला बाग का दौरा किया। इन यात्रियों में 90 साल की विमला, 80 साल के अमर सिंह, 78 साल के राममूर्ति और कंकारी शामिल थे। विकास के पिता महेंद्र जयानी...
economics

गीता गोपीनाथन - अर्थशास्त्र की गीता

2 सप्ताह पहले
हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में भारतीय मूल की प्रोफेसर गीता गोपीनाथ को अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) का प्रमुख अर्थशास्त्री नियुक्त किया गया है। वह मौरी ओब्सफेल्ड की जगह लेंगी। गीता गोपीनाथ इस वक्त हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में इंटरनेशनल स्टडीज ऑफ इकनॉमिक्स में प्रोफेसर हैं। उन्होंने इंटरनेशनल फाइनेंस और मैक्रो इकनॉमिक्स में रिसर्च की है। आईएमएफ की प्रमुख क्रिस्टीन लगार्डे ने गीता गोपीनाथ की नियुक्ति की जानकारी देते हुए कहा, ‘गीता दुनिया के बेहतरीन अर्थशास्त्रियों में से एक हैं। उनके पास शानदार अकादमिक ज्ञान, बौद्धिक क्षमता और व्यापक अंतरराष्ट्रीय अनुभव है।’ आईएमएफ में इस पद पर पहुंचने वाली गीता दूसरी भारतीय हैं। उनसे पहले भ...
humane-rahman

मुजीब-उर-रहमान - इंसानियत का रहमान

2 सप्ताह पहले
पुलिस को लेकर आमतौर पर लोगों में शिकायत ही रहती है। पर यह पूरा सच नहीं है। आज भी खाकी वर्दी में कई एेसे लोग हैं, जो न सिर्फ अपना फर्ज ईमानदरी से निभा रहे हैं, बल्कि वे मानवता के लिहाज से भी आदर्श पेश कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल होने के बाद ऐसे ही पुलिसकर्मी हैं मुजीब-उर-रहमान। रहमान तेलांगाना में हेड कांस्टेबल हैं। तेलंगाना में जब एक महिला अपने बच्चे के साथ परीक्षा देने पहुंची, तो वहां ड्यूटी पर रहमान ने उसके बच्चे को संभाला। उनकी ये तस्वीर इंटरनेट पर वायरल हो गई। इस फोटो में रहमान एक बच्चे को दुलारते दिख रहे हैं। तेलंगाना के महबूनगर की जिला पुलिस प्रमुख आईपीएस अफसर रेमा राजेश्वरी ने सबसे पहले ट्विटर पर फोटो शेयर ...
skating-for-girl-child-education

राणा उप्पलापति - बालिका शिक्षा के लिए स्केटिंग

4 सप्ताह पहले
पेशे से बिजनसमैन 37 साल के राणा उप्पलापति ने देश में बेटियों की शिक्षा के लिए बड़ा अभियान शुरू किया है। राणा खुद को आशावादी मानते हैं और उन्हें लगता है कि उनका अभियान जरूर कारगर रहेगा। 5 सितंबर को राणा ने 6 हजार किमी तक स्केटिंग अभियान शुरू किया, जो 90 दिन में पूरी होगी। इस दौरान उनका कारवां भारत के 20 मुख्य शहरों से होकर गुजरेगा, जिसमें 4 मेट्रो सिटी भी शामिल हैं। वह इस ट्रिप के जरिए 25 हजार बच्चियों के लिए 9 करोड़ का फंड इकट्ठा करेंगे। राणा ने अपनी यात्रा बेंगलुरु से शुरू की है। 10 दिन में ही उन्होंने 800 किमी की यात्रा पूरी कर ली।  वे बताते हैं, ‘मैं प्रोफेशनल स्केटर नहीं हूं। पहले चरण ने मुझे काफी कुछ सिखाया ...
youth-from-mind

मन कौर - ‘मन’ से युवा

4 सप्ताह पहले
जिस उम्र में लोग बेड पर आराम करते हैं या अपने काम भी दूसरों से करवाते हैं, उस उम्र में मन कौर जवान लोगों की तरह ना सिर्फ काम करती हैं, बल्कि अपनी फिटनेस की वजह से मेडल भी जीत रही हैं। खास बात यह है कि मन कौर की उम्र 102 साल है और उन्होंने हाल ही में एक रेस जीत कर साबित कर दिया है कि उम्र सिर्फ एक संख्या मात्र है। दिलचस्प है कि मन कौर ने 93 साल की उम्र में अपने करियर की शुरुआत की और हाल ही में उन्होंने वर्ल्ड मास्टर एथेलेटिक्स में 200 मीटर रेस में गोल्ड मेडल हासिल किया है। यह रेस 100 से 104 की उम्र वालों के लिए आयोजित की थी। उन्होंने यह रेस 3 मिनट 14 सेकेंड में पूरी कर ली और गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया। कि इस रेस का आयोजन ...
world-record-jump

सौम्या अग्रवाल - वर्ल्ड रिकार्ड का जंप

7 सप्ताह पहले
मध्य प्रदेश के उज्जैन की सौम्या अग्रवाल ने डबल अंडर रोप इवेंट में एक मिनट में 170 जंप करते हुए जंप में रोप को दो बार अपने पैरों के नीचे से निकाल कर करीब 340 बार रोप को निकालने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाकर इतिहास रच दिया है। सौम्या के इस वर्ल्ड रिकॉर्ड के बाद उनके परिवार सहित पूरे मध्य प्रदेश में खुशी की लहर है। उज्जैन के सेंट मेरी स्कूल में पढ़ने वाली सौम्या अग्रवाल 11वीं की छात्रा हैं। इससे पहले भी सौम्या 2016 में रोप जंप में गोल्डन बुक ऑफ रिकॉर्ड में अपना नाम दर्ज करा चुकी हैं। सौम्या के नए करतब को देखने के लिए वर्ल्ड बुक ऑफ रिकार्ड की टीम सौम्या के स्कूल आई थी। वर्ल्ड बुक की टीम और सभी छात्र-छात्रओं ने रिकॉर्ड बनने की सौम्य...
assistant-officer

प्रवीण परदेशी - मददगार अफसर

7 सप्ताह पहले
केरल में आई बाढ़ से जहां जानमाल की अपार क्षति हुई है, वहीं इस आपदा की घड़ी में पीड़ितों की मदद के लिए लोग प्रेरक तरीके से सामने आए। ऐसे लोगों में सेना और स्वयंसेवी संस्था के लोग तो शामिल हैं ही कई सरकारी अधिकारियों ने भी बाढ़ पीड़ितों की मदद में जी-जीन एक कर दिया। महाराष्ट्र सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव प्रवीण परदेशी ऐसे ही एक अधिकारी हैं।   केरल में बाढ़ की स्थिति की गंभीरता स्पष्ट हो जाने के बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने राज्य के सबसे भरोसेमंद और कुशल आईएएस अधिकारियों में से एक प्रवीण परदेशी को केरल की मदद का कार्यभार सौंपा। महाराष्ट्र सरकार के विभिन्न विभागों से राहत अधिकारियों और पुनर्वास, राजस्व,...
great-savior-on-tragedy

त्रासदी पर भारी तारणहार

8 सप्ताह पहले
केरल डोनेशन चैलेंज तमिल अभिनेता सिद्धार्थ जो कि चेन्नई बाढ़ और अन्य आपदाओं के समय भी हमेशा मदद के लिए आगे रहे, वे केरल की बाढ़ त्रासदी में भी मदद के लिए आगे आए हैं। 17 अगस्त को उन्होंने ट्विटर पर लोगों से आगे बढ़कर केरल की मदद करने की अपील की और #केरल डोनेशन चैलेंज लेने के लिए कहा। ट्वीट के साथ उन्होंने एक भावनात्मक संदेश भी दिया कि कैसे अभी दान किया हुआ एक-एक रुपया फिर से केरल के निर्माण में सहायक होगा। हर्रों और दीया कोच्चि निवासी दो बच्चे हर्रों और दीया ने दयालुता का अनूठा उदाहरण प्रस्तुत किया है। आपको दयाल...
woman-on-justice-posture

गीता मित्तल व सिंधु शर्मा - न्याय के आसन पर महिला

10 सप्ताह पहले
जस्टिस गीता मित्तल को जम्मू कश्मीर उच्च न्यायालय का मुख्य न्यायाधीश नियुक्त किया गया है। वह राज्य के उच्च न्यायालय की अध्यक्षता करने वाली  पहली महिला न्यायाधीश हैं। जस्टिस गीता मित्तल अब तक दिल्ली उच्च न्यायालय की कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश थीं। इसी तरह जस्टिस सिंधु शर्मा जम्मू कश्मीर उच्च न्यायालय की पहली महिला न्यायाधीश बनी हैं। जम्मू कश्मीर में न्याय के उच्च आसन पर इस तरह किसी महिला का आसीन होना एक बड़ी खबर है। इससे जम्मू कश्मीर में न्याय और महिला सशक्तीकरण के एक नए अध्याय के आरंभ की उम्मीद है। जस्टिस गीता मित्तल और जस्टिस सिंधु शर्मा के अलावा भी कई कई महत्वपूर्ण नियुक्तियां हुई हैं।
noble-of-mathematics

अक्षय वेंकटेश - गणित का नोबेल

10 सप्ताह पहले
नामी भारतीय-ऑस्ट्रेलियाई गणितज्ञ अक्षय वेंकटेश समेत चार विजेताओं को गणित का विशिष्ट फील्ड्स मेडल मिला है। गणित के क्षेत्र में इसे नोबेल पुरस्कार  के समान माना जाता है। हर चार साल बाद फील्ड्स मेडल 40 साल से कम उम्र के सबसे उदीयमान गणितज्ञ को दिया जाता है। स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में पढ़ा रहे नई दिल्ली में जन्मे वेंकटेश को गणित विषय में विशिष्ट योगदान के लिए फील्ड्स मेडल मिला है। रिओ दि जेनेरियो में गणितज्ञों की अंतरराष्ट्रीय कांग्रेस में उनके मेडल के लिए प्रशस्ति में उनके योगदान को रेखांकित किया गया है। तीन अन्य विजेता हैं- कैंब्रिज विश्वविद्यालय में इरानी-कुर्द मूल के प्रोफेसर कौचर बिरकर, बॉन विश्वविद्यालय में पढ़ान...


Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो