sulabh swatchh bharat

शनिवार, 24 फ़रवरी 2018

are-there-really-aliens-on-mysterious-star

रहस्यमय तारे पर क्या सचमुच हैं एलियन?

5 सप्ताह पहले
वैज्ञानिकों का कहना है कि टैबी स्टार ब्रह्मांड का सबसे रहस्यमयी तारा है और यह धूल कणों की वजह से असामान्य ढंग से मंद और उज्जवल होता है। साथ ही वैज्ञानिकों ने इस सिद्धांत को खारिज कर दिया कि इस रहस्यमयी अस्थिर तारे के पीछे एलियंस नहीं है। केआईसी 8462852 या टैबी स्टार सूर्य की तुलना में लगभग 50 प्रतिशत बड़ा है और 1000 डिग्री अधिक गर्म है। यह अन्य तारों की तरह ही मंद और तेज रूप से चमकता रहता है। इस तारे के असामान्य प्रकाश को कई सिद्धांतों से समझा गया है, जिसमें एक एलियन मेगास्ट्रक्जर भी शामिल है, जो स्टार की कक्षा में है। अमेरिका के लुसियाना स्टेट यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर ताबेथा बोयाजिआन ने कहा कि स्टार के मध्यम और तेज चमकने ...
fish-specializes-in-color-change

रंग बदलने में माहिर मछली

5 सप्ताह पहले
पल पल में रंग बदलने में माहिर गिरगिट के बारे में तो सब को पता है, लेकिन समुद्र में एक ऐसी मछली है जो गिरगिरट की तरह अपना रंग बदलती है। इसका नाम है 'हेयरी फ्रॉगफिश'। यह समुद्र के तल में रेत, मूंगा-चट्टानों आदि में छिपने के लिए आमतौर पर 330 फीट की गहराई में रहती है। इंडोनेशिया के आस पास इंडो-पेसिफिक क्षेत्र में इसकी अनेक प्रजातियां पाई जाती हैं। फ्रॉगफिश की लंबाई एक से पंद्रह इंच तक होती है। इसके पूरे शरीर पर बालों की तरह दिखने वाले कांटे होते हैं, जिन्हें 'स्पिन्यूल' कहा जाता है। स्पिन्यूल इसे वातावरण के हिसाब से रंग बदलने में सहायता करते हैं। इसके छोटे शरीर के बीच में 18 से 23 कशेरुकाएं होती हैं, जिनके बीच...
poor-people

गरीब-बेसहारों की ऊषा

5 सप्ताह पहले
इस बदलते दौर में एक तरफ लोगों की संवेदनाएं जहां खत्म होती जा रही हैं। वहीं कुछ ऐसे भी लोग हैं, जो देश और समाज के प्रति अपने उत्तरदायित्वों को बखूबी निभा रहे हैं। इन्हीं लोगों में से एक है ऊषा ठाकुर, जिन्होंने ना सिर्फ पर्यावरण, बल्कि महिलाओं और समाज के पिछड़े तबके के लोगों के लिए सराहनीय कार्य किया है। समाज के प्रति किए गए उल्लेखनीय कार्यों के लिए उन्हें कई पुरस्कारों से सम्मानित भी किया गया है। ऊषा जब नोएडा आईं तो उन्होंने सोचा भी नहीं था कि उनके जीवन का मकसद इस कदर बदल जाएगा और तमाम परेशानियों का सामना करते हुए वह गरीब महिलाओं, बच्चों और पुरुषों के लिए उल्लेखनीय कार्य करेंगी। ऊषा बताती हैं कि हमें तो अब याद भी नहीं कि ह...
monalisa-smallest-painting

मोनालिसा की सबसे छोटी पेंटिंग

10 सप्ताह पहले
वैज्ञानिकों ने इतालवी कलाकार लियोनार्दो दा विंची की मशहूर कलाकृति मोनालिसा की सबसे छोटी प्रति डीएनए की मदद से तैयार की है। अमेरिका के कैलिफॉर्निया इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के अनुसंधानकर्ताओं ने एक ऐसा सस्ता तरीका खोजा है जिसके जरिए डीएनए एकत्र होकर खुद को एक क्रम में सजा लेते हैं। यह क्रम इस तरह से व्यवस्थित होता है कि इसके पैटर्न को पूरी तरह अपनी रुचि के अनुसार ढाला जा सकता है। इससे ऐसा कैनवस तैयार होता है जो किसी भी किस्म की छवि को प्रदर्शित कर सकता है। डीएनए को मूलतः जीवित चीजों की अनुवांशिक सूचनाएं पता लगाने में इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन यह रसायनों का एक ढांचा बनाने में भी समर्थ है।
sleeping-on-the-moon

चांद से टपका धरती पर सोना

10 सप्ताह पहले
जिस सोने के आभूषण आप और हम इतनी खुशी से पहनते हैं वह धरती पर आया कहां से? इस सवाल का जवाब ढूंढने के लिए वैज्ञानिकों ने कई अध्ययन किए और इसको लेकर कई अवधारणाएं मौजूद हैं। लेकिन एक नए अध्ययन के बाद एक और दावा किया गया है। स्टडी की माने तो पृथ्वी के निर्माण के शुरुआती समय में ही इससे एक चांद के आकार का भूमंडलीय पिंड टकराया, जिसकी वजह से धरती पर सोना और प्लैटिनम जैसे बहुमूल्य धातु पहुंचे। अध्ययन करने वाली टीम के मुताबिक इस टक्कर के बाद पृथ्वी पर आने वाले धातुओं की मात्रा पहले के अनुमानों से ज्यादा है और इसके प्रभावों ने पृथ्वी को गहराई से बदल दिया।  ग्रहों के टकराव हमारे सौर मंडल के गठन के मुख्य हिस्सा रहे हैं। वैज्ञानिक...
taj-mahal-at-second-place-in-world-heritage-sites-list-

विश्व धरोहर स्थल सूची में दूसरे स्थान पर ताजमहल

10 सप्ताह पहले
मोहब्बत की निशानी और दुनिया के सात अजूबों में शामिल ताजमहल अब यूनेस्को विश्व धरोहर स्थलों की सूची में दूसरे स्थान पर आ गया है। यह बात एक सर्वे में सामने आई है। जिसमें ताजमहल को दुनिया के धरोहरों में दूसरा स्थान दिया गया है। सर्वे में कंबोडिया का अंकोरवाट मंदिर पहले स्थान पर है। दुनिया भर से प्रतिवर्ष करीब लाखों लोग ताजमहल का दीदार करने भारत आते हैं। -सर्वे में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों की प्रतिक्रिया के आधार पर विश्वभर के सर्वश्रेष्ठ यूनेस्को सांस्कृतिक और प्राकृतिक धरोहर स्थलों की एक सूची जारी की है। इसमें अंकोरवाट की निर्माण प्रक्रिया और इतिहास के बारे में दिलचस्प तथ्यों का ब्यौरा है। इस सूची में प्रदर्शित अन्...
sports-status-in-yog-received-in-saudi-arabia

सऊदी अरब में योग को मिला खेल का दर्जा

13 सप्ताह पहले
भारत में जहां योग और धर्म लेकर विवाद छिड़ा है, वहीं दूसरी ओर इस्लामिक देश सऊदी अरब में योग को एक खेल के तौर पर आधिकारिक मान्यता मिल गई है।  सऊदी अरब की ट्रेड ऐंड इंडस्ट्री मिनिस्ट्री ने स्पोर्ट्स ऐक्टिविटीज के तौर योग सिखाने को आधिकारिक मान्यता दे दी है। सऊदी अरब में अब लाइसेंस लेकर योग सिखाया जा सकेगा। खास बात यह है कि नोफ मारवाई नामक एक महिला को सऊदी अरब की पहली योग प्रशिक्षक का दर्जा भी मिल गया है। योग को खेल के तौर पर सऊदी में मान्यता दिलाने का श्रेय भी नोफ को ही जाता है। नोफ ने इसके लिए लंबे समय तक अभियान चलाया था। अरब योगा फाउंडेशन की फाउंडर नोफ का मानना है कि योग और धर्म के बीच किसी तरह का विवाद नहीं है। आपको ...
the-most-expensive-auction-of-vinci-painting

विंची की पेंटिंग की सबसे महंगी नीलामी

13 सप्ताह पहले
लिओनार्दो दा विंची की पेटिंग 'साल्वातोर मुंडी' अब तक नीलाम होने वाली सबसे महंगी पेटिंग बन गई है। इसे रिकार्ड 45 करोड़ डॉलर में बेचा गया। सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, 1500 ईस्वी के आस-पास बनी 16 दुर्लभतम पेंटिंगों में शुमार इस पेंटिंग को पुनर्जागरण के दौर में बनाया गया था। इन दुर्लभतम पेंटिंगों में विंची द्वारा बनाई गई प्रसिद्ध 'मोनालिसा' की पेंटिंग भी शामिल है। इस निलामी ने पिकासो द्वारा निर्मित पेंटिंग 'लेस फेम्स द अल्गर' का रिकार्ड तोड़ दिया है। यह पेंटिंग वर्ष 2015 में 17.94 करोड़ डॉलर में बिकी थी। 'साल्वातोर मुंडी' की इससे पहले लंदन, हांग-कांग और सैन फ्रांस्सिको में नीलामी के दौरान लोगों के बी...
fireball-will-become-earth

आग का गोला बन जाएगी धरती

13 सप्ताह पहले
ब्रिटिश वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग ने चेतावनी दी है इंसानों की बढ़ती आबादी और बड़े पैमाने पर ऊर्जा की खपत से पृथ्वी 600 सालों से भी कम समय में आग के गोले में तब्दील हो जाएगी। उन्होंने कहा कि इंसानों को अगर कुछ और लाख वर्षों तक अस्तित्व बचाना है, तो उन्हें ऐसे ग्रह पर जाना होगा, जहां अभी तक कोई और नहीं गया है।  पेइचिंग में टेंसेंट डब्ल्यूई समिट में एक विडियो संदेश के जरिए स्टीफन ने कहा कि इंसानों की बढ़ती आबादी और ऊर्जा के बेहिसाब इस्तेमाल के चलते हमारी दुनिया एक आग के गोले में बदलने जा रही है। हॉकिंग ने वैज्ञानिकों से सौरमंडल के बाहर एक ऐसे तारे की खोज करने की अपील की है, जहां ग्रहों की परिक्रमा इंसानों के रहने के अनुकू...
the-birds-will-not-taste-this-year-at-the-sonpur-fair

सोनपुर मेले में इस वर्ष नहीं चहकेंगी चिड़िया

15 सप्ताह पहले
बिहार के विश्व प्रसिद्ध हरिहर क्षेत्र सोनपुर मेले में इस बार आने वाले लोगों को न ही चिड़ियों की चहचहाहट सुनाई देगी और न ही खरीदार देश-विदेश की चिड़ियों को ही खरीद सकेंगे। यही नहीं, इस वर्ष हाथी दौड़ प्रतियोगिता भी नहीं होगी। हाथी केवल सांस्कृतिक कार्यक्रमों में ही दिखाई देंगे। न्यायालय के आदेश पर प्रशासन ने सोनपुर मेले में आकर्षण का केंद्र 'चिड़िया बाजार' पर रोक लगा दी गई है।  सोनपुर में लगने वाला पशु मेला इस बार दो नवंबर से शुरू हो रहा है। करीब एक माह तक चलने वाला यह मेला इस बार 32 दिनों का होगा। इस मेले में गाय, भैंस, घोड़े समेत अनेक पशुओं को बिक्री के लिए लाया जाता है। सोनपुर मेले में चिड़ियों की खरीद-बिक्री को र...
this-machine-makes-water-from-the-air

हवा से पानी बनाती है यह मशीन!

15 सप्ताह पहले
जल को लेकर विभिन्न प्रांतों और देशों में तकरार होता ही रहता है, ऐसे में कोलकाता की कंपनी एकेवीओ ने नवाचार के क्षेत्र में पहल करते हुए पानी की समस्या को हल करने की पहल की है। कंपनी ने हवा की नमी से पानी बनाने वाली मशीन लांच की है।  एकेवीओ ने शुरुआती तौर पर व्यावसायिक उपयोग के लिए 500 लीटर और 1000 लीटर क्षमता की मशीनें लांच की गई हैं। 1000 लीटर पानी बनाने वाली मशीन की कीमत करीब साढ़े नौ लाख रुपए होगी। एकेवीओ के निदेशक नवकरण सिंह बग्गा ने कहा, ‘हवा से पानी बनाने की मशीन बनाने वाली एकेवीओ देश की पहली स्वदेशी कंपनी है। देश में कुछ कंपनियां इस क्षेत्र में कार्य कर रही हैं, लेकिन वे बाहर से मशीनें मंगाती हैं। ऐसे में ...
twenty-three-hundred-crores-loan-for-solar-projects

सौर परियोजनाओं को 2,300 करोड़ रुपए का कर्ज

15 सप्ताह पहले
सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने विश्व बैंक की भागीदारी में देश में ग्रिड से जुड़ी रूफटॉप (छत के ऊपर की) सौर परियोजनाओं के लिए 2,317 करोड़ रुपए के ऋण मुहैया कराने की घोषणा की है। एसबीआई के अध्यक्ष रजनीश कुमार ने बताया कि विश्व बैंक की तरफ से एसबीआई को व्यवहार्य रूफटॉफ परियोजनाओं के लिए ऋण मुहैया कराने के लिए 62.5 करोड़ डॉलर का लाइन ऑफ क्रेडिट (ऋण व्यवस्था) सुविधा मिली है।  उन्होंने कहा, ‘सौर परियोजनाओं को ऋण देने का लाभ यह है कि अन्य ऊर्जा परियोजनाओं की तरह इसमें ईंधन की आपूर्ति को लेकर कोई जोखिम नहीं है, दूसरे यह हमारी धरती की सुरक्षा में मदद करेगा।’ एसबीआई के बयान में कहा गया कि ये ऋण डेवलपरों ...


Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो