sulabh swatchh bharat

बुधवार, 18 अक्टूबर 2017

Prince-William-Lady-Gaga-Promoted-Mental-Health-Awareness

मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता को प्रोत्साहन

26 सप्ताह पहले
लॉस एंजिलिस: पॉप गायिका लेडी गागा और प्रिंस विलियम मानसिक स्वास्थ्य जागरूकता बढ़ाने के लिए एक साथ आगे आए हैं। रॉयल फेमिली के फेसबुक पेज पर इस संबंध में दोनों की फैसटाइमिंग वीडियो क्लिप साझा की गई थी। इस वीडियो क्लिप में गागा फूलों वाला एक टॉप पहने हुए है और चाय पी रही हैं और प्रिंस विलियम से अपनी इस साझा पहल और मानसिक स्वास्थ्य के पैरोकार के तौर पर अपने काम के बारे में बात करती हुई दिख रही हैं। विलियम ने गागा के खुले खत की सराहना की। ‘‘हैरी, कैथरीन और मुझे वास्तव में लगा कि हमारे सभी परोपकारी कार्यो में यह सबसे महत्वपूर्ण क्षेत्र है। चाहे वह बुजुर्ग हों, बेघर हो, बु...
UN-will-Continue-Memorials-Ticket-for-International-Yoga-Day

संयुक्त राष्ट्र स्मारक टिकट

26 सप्ताह पहले
संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त राष्ट्र 21 जून को मनाए जाने वाले अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के सम्मान में विशेष स्मारक टिकट जारी करेगा। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरूद्दीन ने ट्वीट कर बताया कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के सम्मान में जल्द ही विशेष टिकट जारी हो रहा है ।   संयुक्त राष्ट्र की पोस्टल एंजेंसी यूएन पोस्टल एडमिनिस्ट्रेशन (यूएनपीए) योग दिवस मनाने के लिए जल्द ही नया विशेष कार्यक्रम जारी करेगा। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस साल 2015 से मनाया जा रहा है। विशेष कार्यक्रम में पवित्र भारतीय ध्वनि ‘ओम’ और य...
Malala-becomes-Youngests-United-Nations-Messengers-of-Peace

मलाला बनीं सयुंक्त राष्ट्र शांतिदूत

27 सप्ताह पहले
संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने नोबेल शांति पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई का चयन संयुक्त राष्ट्र शांति दूत के रूप में किया है। यह विश्व के किसी नागरिक को संयुक्त राष्ट्र प्रमुख की ओर से दिया जाने वाला सर्वोच्च सम्मान है। संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने घोषणा की कि मलाला दुनियाभर में लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए काम करेंगी। अधिकारिक तौर पर उन्हें एक समारोह में सोमवार को जिम्मेदारी दी जाएगी। संयुक्त राष्ट्र के अन्य शांति दूतों में अभिनेता माइकल डगलस और लियानार्दो डिकैप्रियो जैसी बड़ी ह...
Modi-Sheikh-Hasina-Launch-Rail-Service-between-India-Bangladesh

भारत-बांग्लादेश रेल सेवा शुरू

27 सप्ताह पहले
पेट्रापोल: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना ने वीडियो लिंक के जरिए भारत और बांग्लादेश के बीच पैसेंजर रेल सेवा को हरी झंडी दिखाई। इस मौके पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी  भी मौजूद रहीं। बता दें कि भारत-बांग्लादेश सीमा के पेट्रापोल स्टेशन पर ट्रेन पहुंचने के साथ ही बांग्लादेश के खुलना शहर और कोलकाता के बीच पैसेंजर ट्रेन सेवा का परीक्षण चालन शुरू हो गया। वहीं  रेलवे के अधिकारियों ने कहा कि कोलकाता स्टेशन और खुलना के बीच नियमित सेवा जुलाई से शुरू हो जाएगी । 
world-happiness-report-norway-top-happiest-country-on-the-earth

पहले से कम हुई हमारी खुशी

28 सप्ताह पहले
खुशी हर व्यक्ति के लिए मायने रखती है। अगर व्यक्ति खुश नहीं है तो वह अपने जीवन के साथ ही साथ अपने देश की भी गरिमा को ठेस पहुंचाता है। ऐसा नहीं है कि हम खुश नहीं हैं, हम खुश हैं, लेकिन कुछ कम। ऐसा मानना है विश्व खुशहाली रिपोर्ट का। संयुक्त राष्ट्र की तरफ से जारी हैप्पीनेस रिपोर्ट-2017 में भारत अपने पड़ोसी देशों पाकिस्तान और नेपाल से भी पीछे है, जबकि विश्व का सबसे खुशहाल देश नार्वे को बताया गया है। इसमें विश्व के 155 देशों को शामिल किया गया है। यह रिपोर्ट इन 155 देशों के नागरिकों की खुशी की आधार पर जारी किया गया है। संयुक्त राष्ट्र ने इस कार्यक्रम को साल 2012 में शुरू किया था। साल 2012 की रिपोर्ट के अनुसार नार्वे पांचवें स्थान पर था। वहीं 2016 की हैप्पीनेस सूची में नार्वे चौथे स्थान पर का...
iceland-to-enshrine-equal-pay-for-women-and-men-in-law

महिलाओं-पुरुषों के लिए समान वेतन

28 सप्ताह पहले
स्टाकहोमः आइसलैंड में अब पुरुषों और महिलाओं को एक समान वेतन देने का कानून बनाया जाएगा। इसके लिए वहां कि संसद ने एक विधेयक पेश किया है, जिसके तहत सार्वजनिक एवं निजी उद्यमों को यह प्रमाणित करना होगा कि वे अपने कर्मचारियों को समान वेतन दे रहे हैं। दुनिया में यह अपनी तरह का पहला विधेयक है। सामाजिक मामले एवं समानता मंत्री थोर्स्टिन विगलुंडसन ने मंगलवार को बताया कि विधेयक के तहत 25 या इससे अधिक कर्मचारी रखने वाली कपंनियों और संस्थानों को अब एक समान वेतन भुगतान का प्रमाणपत्र देना होगा। उल्लेखनीय है कि विश्व आर्थिक फोरम-2015 की वैश्विक लैंगिक अनुपात सूची में आइसलैंड पहले पायदान पर था, जबकि इसके बाद आइसलैंड का साथी राष्ट्र नार्वे, फिनलैंड और स्वीडन थे। ...
traffic-control-in-china

चीन में ट्रैफिक कंट्रोल

28 सप्ताह पहले
दुनिया भर में सड़कों पर ट्रैफिक का बोझ खत्म करने के लिए यत्न अभी से नहीं, बल्कि 19वीं सदी से ही शुरू हो गए थे। स्थानीय यातायात में सड़क का विकल्प खोजने का जोर 20वीं सदी में बढ़ा। हालांकि यह दिलचस्प है कि खासतौर पर दक्षिण एशिया में सड़कों पर यातायात को सुगम बनाने के लिए जितनी भी कोशिशें की गईं, वे नाकाफी साबित हुईं। खासतौर पर भारत और चीन में यह समस्या एक बड़ी चुनौती बनी रही। बताते हैं कि बीते तीन दशकों में इन दोनों देशों में सड़कों की लंबाई जितनी बढ़ी है, वह पूरी दुनिया के औसत तो क्या कुल योग से भी ज्यादा है। बात सड़कों की चल रही है, तो एक बात जो दक्षिण एशिया से लेकर यूरोप-अमेरिका तक सामान्य है, वह है सार्वजनिक परिवहन के तौर पर बसों की लोकप्रियता। मुंबई से लेकर शंघाई जैसे शहरों में तो स...
twitter-do-some-change-that-will-you-write-longer-tweet

ट्विटर ने किया बदलाव

29 सप्ताह पहले
फ्रांसिस्को: ट्विटर ने उपभोक्ताओं को आकषिर्त करने के लिए अपने सॉफ्टवेयर में एक नया बदलाव किया है। इसके बदलाव के तहत अब 140 शब्दों की सीमा में उपभोक्ता के नाम को शामिल नहीं किया जाएगा। बता दें कि ट्विटर ने करीब एक साल पहले ही अधिक से अधिक लोगों को ट्विटर की ओर आकषिर्त करने और इस मंच के इस्तेमाल को आसान बनाने के मकसद से शब्दों की सीमा में ढील देने की घोषणा की थी। ट्विटर के उत्पाद प्रबंधक शशांक रेड्डी ने गुरुवार को एक ऑनलाइन पोस्ट में कहा कि हम उन तरीकों पर काम कर रहे हैं, जिनके जरिए आप अपनी बात 140 से अधिक शब्दों में कह पाएं। उन्होंने कहा कि अब आप जब किसी व्यक्ति या समूह को जवाब (रिप्लाय)  देंगे तो आपके 140 शब्दों के ट्वीट में...
smart-water-management-in-singapore

सिंगापुर का स्मार्ट वाटर मैनेजमेंट

31 सप्ताह पहले
टूरिज्म और बिजनेस डेस्टिनेशन के रूप में सिंगापुर का पूरी दुनिया में नाम है।तीन दशक पहले जब पूरी दुनिया में ग्लोबलाइजेशन और उसके साथ डिजिटिलाइजेशन का जोर बढ़ा तो दुनिया भर की कंपनियों ने अपने उत्पाद को यहीं से पूरी दुनिया में भेजना और प्रचारित करना सबसे बेहतर माना, पर सिंगापुर की एक दूसरी पहचान भी है, जो ज्यादा प्रेरक और महत्वपूर्ण है।खासतौर पर एक ऐसे दौर में&nbs...
be6c2b62-bcd8-4f94-a997-e606650e7705

बम से लेकर भूकंप तक नहीं घबराता यह देश

34 सप्ताह पहले
विकास और भूकंप का साझा समझ से परे है, पर बात करें जापान की तो उसने इस बेमेल साझे को इस तरह अपना लिया कि वह दुनिया के आगे विकास और तकनीक का सबसे आकर्षक मॉडल बन गया है। पिछले पांच दशकों से यह मॉडल टिका है। इस मॉडल में जो बात सबसे आकर्षक है, वह है भूकंपीय आपदा से निपटने का जापान का प्रबंध तंत्र। वर्ष 1945 में एटम बम की मार तक झेल चुका यह देश जिस भूभाग पर बसा है वो भूभाग धरती की सबसे अशांत टिक्टेनिक प्लेटों पर स्थित है। इन प्लेटों के बदलने के चलते जापान में समय समय पर भूकंप आते रहते हैं। जापान चूंकि भूकंप का केंद्र हैं, इसीलिए जापान में भूकंप की मॉनिटरिंग करने का सिस्टम काफी मजबूत और अपडेट है। जापान की मेट्रोलॉजिकल एजेंसी छह स्तरों पर हर पल मॉनिटर करती रहती है। सुनामी वार्निंग प्रणाली भी इ...
7beb00ac-8983-4043-8fcb-1ce77419f6fa

एफएम की जगह डैब

35 सप्ताह पहले
नॉर्वे ने एफएम रेडियो बंद करने का ऐतिहासिक फैसला करते हुए बंदी की प्रक्रिया शुरू कर दी है। नार्वे अब  एफएम की जगह डिजिटल ऑडियो ब्रॉडकास्टिंग तकनीक का इस्तेमाल करेगा। सरकारी रेडियो एनआरके और अन्य निजी ब्रॉडकास्टर्स ने अपना एफएम प्रसारण बंद करके डीएबी यानी डिजिटल आडियो ब्रॉडकास्टिंग से प्रसारण शुरू कर दिया है, अब धीरे धीरे पूरे देश के रेडियो चैनल्स को एफएम से डैब पर लाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। उम्मीद है कि इस साल के अंत तक नार्वे में प्रसारण पूरी तरह से डौब के सहारे होने लगेगा। डैब को आधुनिक और बेहतर तकनीक माना जा रहा है। डैब कम खर्चीला इसीलिए भी है कि इसके इस्तेमाल में बिजली की कम खपत होती है और एफएम के मुकाबले बेहतर ऑड...
2abaaaeb-eefe-438b-98a1-fde08f5290ed

साइकिल पर शान से

36 सप्ताह पहले
  डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगेन ने पिछले दिनों नया वल्र्ड रिकॉर्ड बनाया है। यहां की सड़कों पर कारों से ज्यादा संख्या साइकिल की है। पिछले साल 35,080 अधिक साइकिलें सड़कों पर बढ़ गई और इनकी कुल संख्या 265,700 हो गई, जबकि सड़कों पर दौडऩे वाली कारों की संख्या 252,600 है। कोपेनहेगेन शहर को पिछले साल 'बेस्ट सिटी फॉर साइकिलिस्ट’ और 'वल्र्ड्स मोस्ट इन्हैबिटबल सिटी’ का खिताब मिला है।   सन 1970 में वहां पर 351,133 कारें थीं और 100,071 साइकिल। तब से कोपेनहेगेन नगर पालिका ने बहुत से सिटी सेंटरो...


Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो