sulabh swatchh bharat

बुधवार, 15 अगस्त 2018

private-auction-will-be-auctioned

निजी संग्रह की होगी नीलामी

एक सप्ताह पहले
नील आर्मस्ट्रांग का निजी संग्रह इस साल के अंत में और 2019 में श्रृखंलाबद्ध नीलामी में बेचा जाएगा। नील ऑर्मस्ट्रांग चंद्रमा पर पैर रखने वाले पहले व्यक्ति थे। नीलामी की वस्तुओं में ऑर्मस्ट्रांग के ऐतिहासिक 20 जुलाई 1969 में चंद्रमा पर उतरने व निजी जीवन से जुड़ी कई यादगार चीजें शामिल हैं। टेक्सास स्थित नीलामी कंपनी हेरिटेज ऑक्शंस के अनुसार, इसमें 1903 के राइट ब्रदर्स के विमान के पंख व प्रोफेलर शामिल हैं, जिसे अंतरिक्ष यात्री अपने साथ चंद्रमा पर ले गए थे। इसमें मिशन की शुरुआत, उतरने व लौटने के यादगार अपोलो 11 रॉबिन मेडल व रजत पदक व अन्य यादगार चीजें भी शामिल हैं। हेरिटेज ऑक्शंस नीलामी की प्रक्रिया को संभालेगी। आर्मस्ट्...
under-the-earth-is-pressed-big-diamond-jackpot

धरती के नीचे दबा है हीरे का बड़ा खजाना

एक सप्ताह पहले
वैज्ञानिकों ने धरती के नीचे हीरे के बड़े भंडार का पता लगाया है। मैसाच्युसट्स इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी के शोधकर्ताओं के मुताबिक, धरती के नीचे 10 खरब से हजार गुना ज्यादा हीरा दबा हुआ है। हालांकि, इसे निकाला नहीं जा सकता है। वैज्ञानिकों के मुताबिक, यह हीरा धरती की सतह से करीब 90 से 150 मील (145 से 240 किलोमीटर) अंदर है। अभी तक कोई इंसान इतनी गहराई तक नहीं पहुंच पाया हैऔर न ही इतनी गहरी खुदाई की जा सकी है।  एमआईटी के डिपार्टमेंट ऑफ अर्थ, ऐटमॉसफरिक एंड प्लैनेटरी साइंसेज में रिसर्च साइंटिस्ट उलरिक फॉल कहते हैं, 'हम इस हीरे को बाहर नहीं ला सकते, लेकिन फिर भी यह इतना ज्यादा है, जिसके बारे में हमने पहले कभी सोचा भी नहीं ह...
robot-sofia-to-buy-india

रोबोट 'सोफिया' को भाया भारत

3 सप्ताह पहले
इंसान की शक्ल वाली रोबोट मशीन 'सोफिया' ने जब भारत का दीदार किया तो उसमें जीवंत भावना का संचार हुआ। रोबोट सोफिया ने भारत को रंगीन, विविधताओं से पूर्ण और खूबसूरत बताया। हांगकांग की कंपनी हैनसन रोबोटिक्स ने इस मानव मशीन का विकास किया है। सोफिया अभिनेत्री आड्रे हेपबर्न की प्रतिकृति है। इसकी मानवीय शक्ल-सूरत और व्यवहार अन्य रोबोट से जुदा है और इसी खासियत के लिए यह चर्चित भी है।  मानव मशीन सोफिया में कृत्रिम बुद्धिमता (आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस),विजुअल डाटा प्रोसेसिंग और फेशियल रिकॉगनिशन का इस्तेमाल किया गया है। इसकी पहचानने की शक्ति अद्भुत है। यहां सातवें फोरएवर र्माक फोरम में सोफिया को लाया गया है। कमाल की बात तो यह...
automatic-vehicle-will-save-billions

स्वचालित गाड़ियों से बचेंगे अरबों

3 सप्ताह पहले
स्वचालित गाड़ियां अरबों यूरो बचा सकती हैं और इससे भविष्य में सीओ 2 उत्सर्जन में कटौती हो सकती हैं। सिएशन ऑफ जर्मन चैंबर्स ऑफ इंडस्ट्री एंड कॉमर्स (डीआईएचके) द्वारा किए गए एक अध्ययन में इस बात का खुलासा हुआ है।  डीआईएचके विशेषज्ञों ने अध्ययन में कहा कि स्वचालित गाड़ियों की मदद से हर साल लगभग 8.3 अरब यूरो की बचत होगी और 62 लाख टन सीओ 2 उत्सर्जन कम होगा। जर्मन समाचार पत्र 'बिल्ड एम सोनंटैग' ने अध्ययन का हवाला देते हुए कहा कि स्वचालित गाड़ियां समय बचाने और सुरक्षा में वृद्धि कर ईंधन की खपत व परिचालन लागत को कम करेंगी। इसका औसत ड्राइविंग समय में ही 20 प्रतिशत की कमी होने की उम्मीद है, जिससे प्रतिवर्ष लगभग 4.1 अरब ...
photos-of-the-neonatal-planet

सामने आईं नवजात ग्रह की तस्वीरें

5 सप्ताह पहले
हाल ही में पहली बार वैज्ञानिकों के हाथ किसी नए ग्रह की रचना से जुड़ी तस्वीरें लगी हैं। इन तस्वीरों में यह ग्रह, गैस और धूल से घिरे पीडीएस70 नाम के सितारे के अंदर से गुजरता नजर आ रहा है। बताया जाता है कि इसकी पृथ्वी से दूरी लगभग 370 प्रकाश वर्ष है। इन तस्वीरों को यूरोपियन सदर्न ऑब्जर्वेटरी के काफी बड़े टेलिस्कोप से खींचा गया है।  वृहस्पति से भी काफी बड़ा है और इसकी दूरी अपने सितारे से उतनी ही है जितनी दूरी पर सूर्य से यूरेनस (वरुण) ग्रह स्थित है। इसके अलावा पता लगा है कि यहां के सतह का तापमान लगभग 1000 डिग्री सेल्सियस है और इसका वातावरण काफी बादलों से घिरा हुआ है। इस बारे में मीडिया से हुई बातचीत में जर्मनी की प्रसिद्...
the-moon-is-moving-away-from-the-earth

धरती से दूर जा रहा है चांद

7 सप्ताह पहले
चंद्रमा के पृथ्वी से दूर जाने के कारण हमारे ग्रह पर दिन लंबे होते जा रहे हैं। एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि 1.4 अरब साल पहले धरती पर एक दिन महज 18 घंटे का होता था। पत्रिका प्रोसिडिंग्स ऑफ द नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज में प्रकाशित यह अध्ययन चंद्रमा से हमारे ग्रह के रिश्ते के गहरे इतिहास को पुन: स्थापित करता है। इसमें पाया गया कि 1.4 अरब साल पहले चंद्रमा पृथ्वी के ज्यादा करीब था और उसने पृथ्वी के अपनी धुरी के चारों ओर घूमने के तरीके को बदला। अमेरिका में विस्कॉन्सिन - मैडिसन विश्वविद्यालय के प्रफेसर स्टीफन मेयर्स ने कहा कि जैसे-जैसे चंद्रमा दूर जा रहा है तो धरती एक स्पिनिंग फिगर स्केटर की तरह व्यवहार कर रही है जो अपनी बाह...
astronauts-did-spacewalk

अंतरिक्ष यात्रियों ने किया स्पेसवॉक

9 सप्ताह पहले
अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के दो फ्लाइट इंजिनियरों ने अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन से बाहर इस साल का पांचवां स्पेसवॉक पूरा किया। नासा के हवाले से बताया गया है कि ड्रयू फ्यूस्टेल और रिकी ऑर्नोल्ड ने अमेरिकी पूर्वी समयानुसार रात 2 बजकर 10 मिनट पर अपना स्पेसवॉक पूरा किया, जो 6 घंटे और 31 मिनट में पूरा हुआ। दोनों ऐस्ट्रोनॉट्स ने अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन से बाहर निकलकर मरम्मत और अपग्रेडेशन का काम पूरा किया। इस दौरान स्टेशन के कूलिंग सिस्टम हार्डवेयर को अपग्रेड किया गया और नए संचार उपकरण लगाए गए। नासा ने इस स्पेसवॉक का लाइव टेलिकॉस्ट भी किया। बता दें कि आईएसएस पर 1998 से लेकर अब तक यह 210वां स्पेसवॉक था। नासा के मुत...
small-satellites-in-the-direction-of-mars

मार्स की दिशा में छोटे सैटेलाइट्स

9 सप्ताह पहले
नासा के इनसाइट मार्स लैंडर की निगरानी के लिए विकसित दुनिया के पहले छोटे उपग्रह सफलतापूर्वक लाल ग्रह की तरफ बढ़ गए हैं। नासा की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया है कि क्यूबसैट्स मार्को - ए और मार्को - बी पिछले एक सप्ताह से अपनी प्रणोदन प्रणाली (प्रोपल्शन सिस्टम) का इस्तेमाल कर रहे हैं। वे मंगल की दिशा प्राप्त करने के लिए इस प्रणाली का उपयोग कर रहे हैं। इस प्रक्रिया को प्रक्षेप पथ सुधार अभ्यास (ट्रैजेक्टरी करेक्शन मनूवर) कहा जाता है।  यह अंतरिक्ष यान को प्रक्षेपण के बाद मंगल ग्रह की तरफ अपने पथ की दिशा में सुधार की अनुमति देता है। दोनों क्यूब सैट ने इस अभ्यास को सफलतापूर्वक पूरा किया। इन दोनों छोटे उपग्रहों को इनसाइट लै...
astronauts-will-walk-in-space

अंतरिक्ष यात्री अंतरिक्ष में करेंगे चहलकदमी

13 सप्ताह पहले
नासा के दो अंतरिक्ष यात्री तापीय नियंत्रण उपकरण से निकलकर 16 मई को अंतरिक्ष में चहलकदमी करने के लिए तैयार हैं। नासा ने सोमवार को एक ब्लॉग पोस्ट में कहा कि यह चहलकदमी अनुभवी अंतरिक्ष यात्री रिकी अर्नाल्ड व ड्र फ्यूसटेल करेंगे। पोस्ट में कहा गया है कि दोनों अंतरिक्ष यात्री दूसरी बार 14 जून को अंतरिक्ष में चहलकदमी करेंगे।  केंद्र के अधिकारी नासा टीवी पर आगामी अंतरिक्ष चहलकदमी की समीक्षा करेंगे। पहले अंतरिक्ष चहलकदमी के सिर्फ चार दिन बाद 20 मई को आर्टिबल एटीके कक्षीय प्रयोगशाला के लिए चार दिन की यात्रा पर इसकी रिसप्लाई उड़ान शुरू करने की योजना बना रहा है। नासा ने कहा कि कार्गो मिशन के लिए आर्टिबल एटीके वर्जीनिया के वालप्स फ्लाइ...
will-survive-forever

क्या हमेशा के लिए अस्त होगा सूरज

13 सप्ताह पहले
सूरज को लेकर कुछ वैज्ञानिकों ने बड़ी भविष्यवाणी की है। उनका कहना है कि आने वाले 10 अरब साल बाद सूरज इंटरस्टेलर गैस और धूल का एक चमकदार छल्ला बन जाएगा। इस प्रक्रिया को ग्रहों की निहारिका (प्लेनेटरी नेबुला) के तौर पर जाना जाता है। प्लेनेटरी नेबुला सभी तारों की 90 प्रतिशत सक्रियता की समाप्ति का संकेत देता है। हालांकि कई साल तक वैज्ञानिक इस बारे में निश्चित नहीं थे कि हमारी आकाशगंगा में मौजूद सूरज भी इसी तरह से खत्म हो जाएगा। सूरज के बारे में माना जाता रहा कि इसका भार इतना कम है कि इससे साफ दिख सकने वाले ग्रहों की निहारिका बन पाना मुश्किल है। इस संभावना का पता लगाने के लिए वैज्ञानिकों की टीम ने डेटा-प्रारूप वाला एक नया ग्रह विकसित क...
nasa-to-launch-new-aircraft-on-mars

मंगल पर नया यान भेजेगा नासा

13 सप्ताह पहले
अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा जल्द ही लाल ग्रह पर एक नया अंतरिक्ष यान भेज रहा है जो मंगल की अंदरूनी संरचना का गहराई से अध्ययन कर यह पता लगाएगा कि किस तरह से चट्टानी ग्रह और उनके चंद्रमाओं का निर्माण होता है।   पहली बार अंतरिक्ष यान को अमेरिका के पश्चिमी तट से प्रक्षेपित किया जाएगा। अमेरिका के अधिकतर इंटरप्लैनिटरी मिशन फ्लॉरिडा के कैनेडी स्पेस सेंटर (केएससी ) से उड़ान भरते हैं। जो कि देश के पूर्वी तट पर स्थित है। 5 मई को वॉन्डनबर्ग एयरफोर्स बेस से पहला ऐतिहासिक इंटरप्लैनिटरी मिशन लॉन्च होगा।  इस 57.3 मीटर लंबे यूनाइटेड लॉन्च अलाइंस ऐटलस 5 रॉकेट में नासा के सीस्मिक इन्वेस्टिगेशन्स का इस्तेमाल करते हुए इ...
luxury-hotels-in-space

स्पेस में बन रहा है लग्जरी होटल

13 सप्ताह पहले
देश-विदेश घूमना अगर आपको सामान्य लगता है तो भविष्य आपके लिए कुछ नया लेकर आ रहा है। दरअसल, 2022 तक स्पेस में एक ऐसा लग्जरी होटल बनाने का दावा किया जा रहा है जिसमें कोई भी जाकर रह सकेगा। हालांकि, इसके लिए आपको अभी से तैयारियां शुरू करनी होंगी, क्योंकि यात्रा करवाने वाली कंपनी इसके लिए करोड़ों रुपए वसूलेगी। अमेरिका के टेक्सस राज्य की कंपनी 'ओरियन स्पैन' इसकी तैयारियों में लगी है। इस स्टार्टअप ने घोषणा की है कि वह स्पेस का पहला लग्जरी होटल बनाने जा रहे हैं जो 2021 में लॉन्च होगा और 2022 तक आम लोगों के लिए खुल जाएगा। जानकारी के मुताबिक, होटेल में दो क्रू मेंबर और चार यात्रियों के लिए जगह होगी। पूरी यात्रा कुल 12 दिन की...


Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो