sulabh swatchh bharat

मंगलवार, 22 अगस्त 2017

3-astronauts-arrive-at-international-space-station

अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पहुंचे 3 अंतरिक्ष यात्री

एक सप्ताह पहले
रूस की अंतरिक्ष एजेंसी ‘रॉसकॉसमोस’ द्वारा जारी फुटेज में सोयूज यान नासा के अंतरिक्ष यात्री रेंडी ब्रेसनिक, रूसी अंतरिक्ष यात्री सर्गेई रियाजैस्की और यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी के पाओलो नेस्पोली को काजिकिस्तान के बैकॉनुर कॉस्मोड्रोम से धुंधले आसमान में ले जाता दिख रहा है। अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी ‘नासा’ के अनुसार छह घंटे बाद पृथ्वी के चार चक्कर लगा कर सोयूज अंतरिक्ष स्टेशन पहुंचा। तीनों अंतरिक्ष यात्रियों के आगमन से अप्रैल के बाद आईएसएस में पहली बार छह लोग मौजूद हैं।  
antibiotic-drugs-are-not-environment-friendly

नुकसानदायक एंटीबायटिक्स

3 सप्ताह पहले
एंटीबायटिक का इस्तेमाल विभिन्न प्रकार के बैक्टीरिया संक्रमण से सुरक्षा और उनसे होने वाले रोगों को दूर करने में किया जाता है, लेकिन एक अध्ययन में चेतावनी दी गई है कि यह एक स्वस्थ वातावरण के लिए जरूरी रोगाणुओं को नुकसान भी पहुंचा सकते हैं। इस शोध के अनुसार, यह महत्वपूर्ण रूप से पूरे विश्व के लोगों के जीवन पर असर डाल सकते हैं। जब लोग एंटीबायटिक दवाइयां लेते हैं, तो शरीर में दवाओं के केवल एक हिस्से का मेटाबॉलिज्म होता है, बाकी बाहर निकल जाता है।  चूंकि अपशिष्ट जल उपचार संयंत्र को एंटीबायटिक या अन्य दवा संयुग्मों को पूरी तरह से हटाने के लिए डिजाइन नहीं किए जाते हैं, इसीलिए इनमें से कई यौगिक प्राकृतिक प्रणालियों तक पहुंच जाते हैं जहां वे 'अच्छे' रोगाणुओं...
canada-celebrate-150-years

कनाडा @ 150 वर्ष

3 सप्ताह पहले
क्षेत्रफल के नजरिए से रूस के बाद दुनिया के दूसरे सबसे बड़े देश कनाडा ने अपनी स्थापना के 150 वर्ष पूरे कर लिए हैं। कनाडा समृद्ध देश तो है ही, साथ ही काफी खूबसूरत और शांतिप्रिय भी है। यहां एक ओर लाखों मील में फैला बर्फीला संसार है तो दूसरी ओर हैं लंबे-चौड़े समुद्री तट। बीच में कहीं हरे-भरे घास के मैदान हैं तो कहीं सदाबहार जंगल, मरुस्थल, लंबी-चौड़ी नदियां और झीलें भी हैं। कुल मिलाकर कनाडा ऐसा समृद्ध, खूबसूरत और शांतिप्रिय देश है जहां आप बार-बार जाना पसंद करेंगे। ध्यान रखने लायक यह है कि कनाडा जाकर ही आप विश्व के सबसे बड़े जलप्रपात नियाग्रा के अद्भुत, अलौकिक और विकराल रूप को देख पाएंगे। भारत से कनाडा का एक खास रिश्ता है। कनाडा में पंजाब की झलक साफ दिखती है। भारत और कनाडा का यह रि...
antarctica-breaks-biggest-icebergs

अंटार्कटिका से टूटा सबसे बड़ा हिमखंड

3 सप्ताह पहले
विश्व के दक्षिण में स्थित ध्रुव पर ​स्थित अंटार्कटिका से भारत की राजधानी दिल्ली के आकार से भी चार गुना बड़ा हिमखंड टूट गया है, जो अपने साथ तबाही का मंजर लेकर आ रहा है। वैज्ञानिकों ने कहा कि करीब एक खरब टन का हिमशैल (अब तक के दर्ज आंकड़ो में सबसे बड़ा) कई महीनों के पूर्वानुमान के बाद अंटार्कटिका से टूटकर अलग हो गया है। अब दक्षिणी ध्रुव के आसपास जहाजों के लिए ये गंभीर खतरा बन सकता है। लार्सन सी बर्फ की चट्टान में से 5,800 वर्ग किलोमीटर का हिस्सा अलग हो जाने से इसका आकार 12 फीसदी से ज्यादा घट गया है और अंटार्कटिका का परिदृश्य हमेशा के लिए बदल चुका है। बताया जा रहा है कि इसका असर भारत के अंडमान-निकोबार और सुंदरबन डेल्टा पर भी पड़ सकता है। अंटार्कटिका में हमेशा...
india-launches-communications-satellite-from-french-guiana

फ्रेंच गुयाना से हुआ भारत का संचार उपग्रह लांच

6 सप्ताह पहले
भारत का आधुनिकतम संचार उपग्रह जीसेट-17 को एरियन स्पेस के एक भारी रॉकेट के जरिए सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया गया। यह प्रक्षेपण फ्रेंच गुयाना के कौओरू से किया गया। लगभग 3477 किलोग्राम के वजन वाले जीसेट-17 में संचार संबंधी विभिन्न सेवाएं देने के लिए नॉर्मल सी-बैंड, एक्सटेंडेड सी-बैंड और एस-बैंड वाले पेलोड हैं। कॉम्पलेक्स नंबर 3 से उड़ान भरी इसमें मौसम संबंधी आंकड़ो के प्रसारण वाला यंत्र भी है और उपग्रह की मदद से खोज एवं बचाव सेवाएं उपलब्ध करवाने वाला यंत्र भी। अब तक ये सेवाएं इनसेट उपग्रह उपलब्ध करवा रहे थे। यूरोपीय प्रक्षेपक एरियन स्पेस फ्लाइट वीए 238 ने कौओरू के एरियन लांच कॉम्पलेक्स नंबर 3 से उड़ान भरी। कौओरू दक्षिण अमेरिका के पूर्वोत्तर तट पर स्थित एक ...
world-suffer-from-thunder-of-hot-wind

लू के थपेड़ों से झुलसेगी दुनिया

8 सप्ताह पहले
जलवायु परिवर्तन और ग्लोबल वॉर्मिंग के कारण इंसान के भविष्य पर दिनोदिन और गहरे सवाल खड़े होते जा रहे हैं। विश्व की तीन-चौथाई आबादी को जल्द ही भयानक लू के थपेड़ों का सामना करना पड़ सकता है। वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि अगर इतनी बड़ी मात्रा में ग्रीनहाउस गैसों का उत्सर्जन जारी रहता है, तो हम में से कई लोगों को अपने जीते-जी ऐसी स्थिति का सामना करना पड़ेगा। 1980 से लेकर अब तक दुनिया के 1,900 अलग-अलग हिस्सों में बड़ी संख्या में लोग लोग गर्मी और उमस के कारण मारे गए हैं। 2010 में मॉस्को में 10,800 लोगों की गर्मी के कारण मौत हुई। 2003 में पेरिस में करीब 4,900 लोग गर्मी और उमस के कारण मारे गए। 1995 में शिकागो में गर्मी और उमस ने लगभग 7...
10-new-planets-like-earth-found-outside-solar-system

सौर मंडल के बाहर मिले धरती जैसे 10 नए ग्रह

8 सप्ताह पहले
स्पेस एजेंसी नासा ने सौर मंडल के बाहर 219 नए ग्रहों को खोज निकाला है। फिलहाल यही संभावना है कि ये सभी खगोलीय पिंड ग्रह ही हैं। इनमें से 10 ऐसे भी ग्रह हैं, जो बिल्कुल धरती की तरह हैं। इन दसों ग्रहों की परिस्थितियां भी धरती जैसी होने की उम्मीद जताई जा रही है। जिस तरह पृथ्वी अपने सौर मंडल में सूर्य के न ज्यादा पास है और न ज्यादा दूर, ऐसी ही स्थिति इन ग्रहों की भी है। सूर्य से बहुत दूर होने से ग्रह पर तापमान बहुत ज्यादा होता है, वहीं सूर्य के बहुत पास होने पर वहां बहुत ठंड होती है जिसकी वजह से पानी के तरल रूप में मौजूद होने की संभावना खत्म हो जाती है। पानी की मौजूदगी के कारण इन ग्रहों में जीवन मौजूद होने की मजबूत संभावना नजर...
crisis-of-the-amazon-reef

अमेजन रीफ का संकट

10 सप्ताह पहले
वैश्विक तापमान को दो डिग्री तक कम करने की दुनिया भर की कोशिशों पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के रवैये से पानी फिरता नजर आ रहा है। वैसे इस मुद्दे पर और भी कई खतरे हैं, जिनसे समय रहते निपटने की जरूरत है। अगर ऐसा नहीं हुआ तो पर्यावरण के संकट से निपट पाना पूरी दुनिया के लिए मुश्किल हो जाएगा। पर्यावरण पर मंडरा रहे इन्हीं खतरों में से एक है अमेजन रीफ का संकट। दुनिया को बीस फीसदी ताजा पानी देने वाली अमेजन नदी के मुहाने पर 9,500 वर्ग किमी क्षेत्र में मूल्यवान अमेजन रीफ का फैलाव है। अमेजन की चट्टानें अमेजन के बहुत गंदी मिट्टी और गाद में सराबोर, तलछट से भरे पानी में स्थित हैं और असामान्य रसायन-संश्लेषण का एक उत्पाद है। जहां एक तरफ रीफ शृंखलाओं में प्रकाश संश्लेषण के द्वारा अपनी ऊ...
moon-and-sky-scientific-research-turn-interesting-directions

चांद होगा धरती का आठवां महादेश

12 सप्ताह पहले
चांद और अंतरिक्ष को लेकर वैज्ञानिक खोज अब दिलचस्प दिशा की तरफ मुड़ गई है। अब इसमें कई ऐसी संभावनाओं को स्थान मिल रहा है, जिससे चांद और अंतरिक्ष को लेकर लोगों की सैकड़ों सालों से रही फैंटेसी को सच कर दिखाया जाए। ऐसी ही एक संभावना है चांद पर मानवीय जीवन के लिए अनुकूलताओं की खोज। इससे जुड़े कई अनुसंधान तो चल ही रहे हैं, साथ में कई ऐसे विकल्पों को लेकर भी कार्य शुरू हो गए हैं, जिससे चांद और मनुष्य के बीच की दूरी कम हो। इन्हीं कोशिशों के बीच चांद को दुनिया का आठवां महादेश बनाने की तैयारी भी की जा रही है। इस तरह की तैयारी में अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा तो अपने तरह से जुटी ही है, विकसित देशों की कई निजी कंपनियां भी ऐसी योजनाओं में दि...
UN-First-World-Tuna-Day-Protection-Specific-Fish

विश्व टूना दिवस पर मछली संरक्षण

16 सप्ताह पहले
संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त राष्ट्र ने पहले विश्व टूना दिवस के अवसर पर इस मछली के संरक्षण का आह्वान किया। टूना मछलियां पकड़े और खाये जाने के मामले में दुनिया की सबसे लोकप्रिय मछलियों में से एक है। संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष पीटर थॉमसन ने मंगलवार को कहा कि टूना सतत विकास, खाद्य सुरक्षा, आर्थिक अवसर प्रदान करने और दुनिया भर के लोगों की आजीविका में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। उन्होंने कहा कि समुद्र से पकड़ी जाने वाली सभी मछलियों के कुल मूल्य का 20 प्रतिशत इन्हीं मछलियों से आता है और सीफूड के अंतरराष्ट्रीय व्यापार में इस मछली की आठ प्रतिशत हिस्सेदार...
Israel-Give-Respected-to-Blind-Indian-his-Independence-Day

नेत्रहीन भारतीय को मिला सम्मान

16 सप्ताह पहले
यरूशलम: दीना सिमाता नामक एक नेत्रहीन भारतीय प्रवासी उन 14 लोगों में शामिल हैं, जिन्हें इस्राइल के 69वें स्वतंत्रता दिवस समारोह में मशाल प्रज्वलित करने के लिए चुना गया। सिमाता (19) बनेई मेनाशे समुदाय की सदस्य हैं और मणिपुर से आती हैं। वह यरूशलम्स इंस्टीट्यूट फॉर द ब्लाइंड की छात्र और स्वयंसेवी हैं। बेहतरीन गायिका दीना ‘शाल्वा इंस्टीट्यूट’ में विकलांग बच्चों के एक समूह का नेतृत्व करती हैं। यहां वह कई मशहूर गायकों के साथ प्रस्तुति दे चुकी हैं। दीना को समाज में उनके योगदान के लिए चुना गया है। दीना ने अपने भाषण में संस्थान के कर्मचारियों का धन...
NASA-Expressed-Possibility-of-Life-on-Enceladus

एनसेलडस पर जीवन की संभावना

16 सप्ताह पहले
पृथ्वी पर मानव अस्तित्व के अलावा अनंत ब्रह्मांड में किसी और जीवन का होने या ना होने के दावे लंबे वक्त से बहस का मुद्दा रहे हैं। अब इस विषय पर नेशनल एरनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) ने पहली बार पुष्टि की है कि पृथ्वी के ही सोलर सिस्टम में शनि ग्रह के चंद्रमा एनसेलडस पर जीवन हो सकता है। नासा द्वारा की गई यह अपनी तरह की पहली पुष्टि है। शनि ग्रह को लेकर नासा के जांच अभियान में बर्फ से ढंके एनसेलडस पर एक दरार के अंदर पानी जैसी चीज देखी गई। जांच करने पर पता चला कि उसमें 98 प्रतिशत पानी ही है। बाकी दो प्रतिशत में हाइड्रोजन, कार्बन डाइऑक्साइड और मिथेन के अलावा और भी कार्बनिक निशान पाए गए हैं। ये सभी जीवन की संभावना का संकेत देत...


Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो