sulabh swatchh bharat

शनिवार, 15 दिसंबर 2018

b-b-br-d5e87063-6327-4d38-a9a9-78cfac842b3f

गिगि हदीद - बनी बार्बी

95 सप्ताह पहले
युवा और सुंदर गिगि हदीद कम ही समय में अमेरिकी मॉडलिंग जगत में सबकी चहेती बन गई हैं। अब उनकी लोकप्रियता में एक और इज़ाफा होने जा रहा है। अब उनके नाम से नई बार्बी डॉल बनाई गई है।  डॉल बनाने वाली कंपनी ने गिगि और उनकी जैसी बार्बी की तस्वीर सार्वजनिक की है, जिसकी इन दिनों काफी चर्चा है। खुद गिगि भी इस कामयाबी से काफी खुश है और उसने इसका इज़हार करते हुए इंस्टाग्राम पर लिखा भी है कि मुझे यकीन नहीं हो रहा कि ऐसा हुआ है। हदीद ने इसके लिए डॉल कंपनी का शुक्रिया अदा किया है। वैसे यह अलग बात है कि यह नई बार्बी दुकानों पर नहीं दिखेगी।
span-style-font-size-15px-b-b-span-br-d17c8c66-5885-48c2-8250-9b8365cb707f

ए आर रहमान - कनाडा चले रहमान

95 सप्ताह पहले
ऑस्कर विजेता ए आर रहमान ने अब अमेरिका से अपना बेस हटा कर कनाडा बना लिया है। यूं तो रहमान का परिवार चैन्ने में रहता है, लेकिन बीते कुछ वर्षों से वो अमेरिका में अधिक समय बिताते थे। पर अब रहमान ने कनाडा में बसने की सोची है और टोरंटो के मेयर जॉन टोरी ने रहमान का स्वागत भी किया है। अब रहमान कनाडियन कंपनी आइडल ऐटरटेंमेंट के साथ मिल कर तीन फिल्में-'ली मस्क’, '99 सांग्स’ और 'वन हार्ट-द ए आर रहमान कन्सर्ट’ फिल्म का निर्माण भी कर रहे हैं।
span-style-font-size-15px-b-b-span-br-0a765b6d-c751-4a30-9d72-3adb77f216b1

फारेल विलयम्स -चाहिए भारतीय नाम

96 सप्ताह पहले
बहुचर्तित गाना 'हैप्पी’ के मशहूर सिंगर फारेल विलयम्स जल्द पिता बनने जा रहे हैं। उन्हें यह खुशी दूसरी बार मिल रही है। फारेल की पत्नी हेलेन लेसिकान, जो मॉडल और डिजाइनर हैं, तीन बच्चों को एक साथ जन्म देने जा रही हैं। फारेल जहां एक ओर खुश हैं, वहीं दूसरी तरफ उनकी परेशानी बच्चों के लिए आकर्षक नाम ढूंढने की है। फारेल को भारतीय नाम बेहद लुभाते हैं, क्योंकि वो उन्हें किसी न किसी अलौकिक ताकत और प्रकृति से जुड़े लगते हैं। इसीलिए फारेल ने अपने बेटे का नाम रॉकेट रखा। वह पहले भारतीय नाम की तर्ज पर ऐसा कोई नाम ढूढते रहे, पर उन्हें नहीं मिला। सो फारेल ने मानव निर्मित मशीन पर ही नाम रख दिया। पर अब उन्हें तीन नाम और ढूंढने होंगे।
span-style-font-size-15px-b-b-span-br-94e9757d-98c6-4c48-aea2-7a8feb7d8836

विशाल भारद्वाज - विशाल संयम

96 सप्ताह पहले
'रंगून' फिल्म के दौरान शाहिद कपूर और कंगना रणौत के खटराग से निर्देशक विशाल भारद्वाज बेहद परेशान रहे, लेकिन उन्होंने संयम बनाए रखा। अब जब इन सितारों को फिल्म का प्रमोशन करना है तो यह लड़ाई एक बार फिर सामने आ गई। शाहिद ने कंगना के साथ फिल्म प्रमोशन से मना कर दिया है, ऐसा सूत्र बताते हैं। ...तो अब सैफ अली खान ही कंगना के साथ नजर आएंगे। 'कॉफी विद करन' शो में सैफ ही कंगना के साथ चैट करते दिखेंगे।
span-style-font-size-15px-b-b-span-br-c6abc0d3-e7ff-4ffd-ae8b-a9bbda9f2a53

इमरान खान - डायरेक्टर बनेंगे इमरान

96 सप्ताह पहले
अपने फ्लॉप एक्टिंग कैरियर के बाद इमरान खान एक बार फिर बॉलीवुड में बतौर निर्देशक किस्मत आजमाना चाहते हैं। अपने मामू जान के नक्शे कदम पर चलते हुए स्क्रिप्ट पर काम भी करना शुरू कर दिया है। फिल्म की कहानी के लिए इमरान ने आयशा को चुना है, जिन्होंने 'कपूर एंड संस’से अपनी पहचान बनाई है। डायरेक्शन के साथ-साथ  फिल्म का निर्माण भी इमरान करने की सोच रहे हैं। बकौल इमरान निर्देशनउनके खून में है। नाना नासिर हुसैन, मामा मंसूर और आमिर की तरह निर्देशन उनका पहला प्यार है।
span-style-font-size-15px-b-b-span-br-ecb1679f-56d5-4145-ac4c-39ae9310371b

रानी मुखर्जी - की वापसी

96 सप्ताह पहले
बेटी की मां बनने के बाद एक बार फिर रानी मुखर्जी रूपहले परदे की ओर लौट रही हैं उन्हें कई ऑफर मिल रहे हैं, क्योंकि वह अब आदित्य चोपड़ा की पत्नी हैं। पर रानी इन प्रस्तावित भूमिकाओं से उत्साहित नहीं हैं। वह अपनी वापसी धमाकेदार तरीके से करना चाहती हैं। सो रानी ने अपनी दिली इच्छा संजय लीला भंसाली को बताई। सूत्रों की मानें तो संजय ने रानी को एक रोल ऑफर किया, लेकिन वह हीरोइन का रोल नहीं था, इसीलिए रानी ने उसे ठुकरा दिया। अब संजय के बाद रानी की अंतिम उम्मीद प्रदीप सरकार बचे हैं, जिनके साथ उन्होंने 'मर्दानीÓ और 'लागा चुनरी में दागÓ जैसी फिल्में की हैं। फिलहाल हीरोइन के लुक के लिए रानी डाइटिंग और जिम का सहारा ले रही हैं।
span-style-font-size-15px-b-b-span-br-59316eac-facd-427b-9574-1cfe04f94526

शेखर सुमन - शेखर के सुर-ताल

98 सप्ताह पहले
कॉमेडी के बाद राजनीति और अब म्यूजिक। शेखर सुमन इन दिनों इसी रास्ते पर हैं। पता चला है कि वे किशोर कुमार, मुकेश, रफी और मन्ना डे जैसे सदाबहार गायकों को अपनी तरफ से श्रद्धांजलि देंगे। अपने इस नए शौक को लेकर शेखर इस कदर संजीदा हैं कि वे सबको बताते हैं कि वे इसके लिए रोजाना तीन घंटे रियाज कर रहे हैं। शेखर को संगीत की तालिम कोलकाता के जाने-माने गायक देवप्रिय अधिकारी दे रहे हैं। हालांकि सिखने-सिखाने का ये सारा काम स्काइप के जरिए ही शेखर कर रहे हैं।
span-style-font-size-15px-b-b-span-br-cae63684-66a0-4eca-9871-821c76e2299e

सोनम कपूर - सोनम की घड़ी

98 सप्ताह पहले
सोनम कपूर को उनके ट्रेंड सेटिंग स्टाइल के लिए जाना जाता है। ब्रांड कंपनियों की वह चहेती हैं। कई बड़े ब्रांड को मार्केट में मुकाम दिलाने के बाद सोनम ने स्विस लग्जरी वाच कंपनी आईडब्ल्यूसी के साथ हाथ मिलाया है। वह कहती हैं कि आईडब्ल्यूसी का ब्रांड अंबेसेडर बनना और इस ब्रांड को भारत के साथ पूरी दुनिया में पेश करना उनके लिए गौरव की बात है। अपनी इस खुशी को जाहिर करते हुए सोनम यह बताना नहीं भूलतीं कि आईडब्ल्यूसी की घडिय़ों की वह बहुत पहले से फैन रही हैं।
span-style-font-size-15px-b-b-span-br-f9981940-b889-4889-820f-4a50dc977220

लिंडसे लोहान - लोहान का इंस्टाग्राम

98 सप्ताह पहले
विवाद और लिंडसे लोहान का चोली-दामन का साथ है। लोहान नए विवाद में अपने एक इंस्टाग्राम पोस्ट से पड़ी है। उन्होंने जब से इंस्टाग्राम में अपने बॉयो में वलैकुम अस्सलाम लिखा है, तब से वह मुस्लिम कटट्टïरपंथियों की निगाहों में चढ़ गई हैं। कहना मुश्किल है कि लिंडसे ने यह सब विवाद बटोरने के लिए किया या वह इन दिनों वाकई इस्लाम से प्रभावित हो रही हैं। वैसे जो लोग लोहान की सच्चाई को जानते हैं वे इस नए विवाद की वजह भी जरूर समझ रहे होंगे।
span-style-font-size-15px-b-b-span-br-24c2769f-070c-443e-88bd-00533e2b3184

दिलजीत - जीतेंगे दिल

98 सप्ताह पहले
पॉपुलर सिंगर दिलजीत दोसांझ ने अपने नए हिट गाने  का एक्सक्लूसिव ऑन लाइन राइट गाना कंपनी को दिया है। माना जा रहा है कि इससे दिलजीत के देश में और देश से बाहर रहने वाले पंजाबी फैंस तक उनकी लोकप्रियता काफी बढ़ जाएगी। खास तौर पर अमेरिका और यूके में आने वाले दिनों में दिलजीत की धुन पर लोग थिरकते नज़र आएंगे।
span-style-font-size-15px-b-b-span-de668bdd-5e64-41f0-8727-1b0fa6c8e7b5

99 सप्ताह पहले
बारगढ़ में 11 दिनों तक कृष्ण लीला और मथुरा विजय पर नाटक उत्सव मनाया जाएगा। ओडिशा के बाडग़ढ़ की धनु यात्रा में आयोजित 'राजा कंस का क्षेत्र’ के मंचन को दुनिया का सबसे बड़ा खुला मंच उत्सव के तौर पर जाना जाता है। बाडग़ढ़ धनुयात्रा की आधिकारिक वेबसाईट के मुताबिक 11 दिनों तक कंस की मौत और श्रीकृष्ण की अच्छाइयों की कहानी के लिए बाडग़ढ़ शहर एक बड़ा मंच बन जाता है। यहां के अलावा मथुरा में 14 जगहों पर और गोपापुरा में 4 जगहों पर इसी कथा का मंचन होता है।  अलग-अलग चरित्रों को निभाने के लिए मथुरा में 75 कलाकारों को चुना गया है। गोपापुर में 45 कलाकार चुने गए हैं। इसके अलावा पूरे देश से 120 अलग-अलग सांस्कृतिक समूह के तीन हजार कला...


Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो