sulabh swatchh bharat

मंगलवार, 12 दिसंबर 2017

the-biggest-toilet-pot-model-inauguration-on-world-toilet-day-in-trump-village

फैला स्वच्छता का सुलभ प्रकाश

2 सप्ताह पहले
शौचालय ईंट गारे और लोगों की सहायता से तो बनाए जा सकते हैं, परंतु उन्हें स्वच्छ रखने का उत्तरदायित्व हम सभी का है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इन बातों को चरितार्थ करते हुए सुलभ प्रणेता डॉ. विन्देश्वर पाठक ने  स्वच्छता के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए विश्व शौचालय दिवस के मौके पर हरियाणा के मेवात जिले के ट्रंप विलेज में दुनिया के सबसे बड़े शौचालय पॉट के मॉडल का अनावरण किया। इसके साथ ही शंख ध्वनि के बीच उन्होंने  6 नए शौचालयों और गांव के स्कूल के प्रांगण में नवनिर्मित वीवीआईपी शौचालय का भी अनावरण किया। सुलभ प्रणेता डॉ. विन्देश्वर पाठक ने कहा कि इस पॉट के मॉडल का अनावरण इस गांव में करने की वजह यह है कि यहां के लोग शौच...
confluence-of-poetry-in-chandigarh

चंडीगढ़ में कवयित्रियों का संगम

2 सप्ताह पहले
‘जो कुछ मैं आज हूं, जो कुछ मैं बन सका, उसका कारण मेरी मां, मेरी बहन और मेरी बीबी है।...’ जीवन में नारी के महत्त्व को रेखांकित करते हुए यह बात कही पूर्व क्रिकेटर और पंजाब सरकार के कला एवं पर्यटन मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने। उन्होंने 9 से 11 नवंबर, 2017 तक आयोजित अखिल भारतीय कवयित्री सम्मेलन के 17वें अधिवेशन में बतौर मुख्य अतिथि अपना वक्तव्य दिया। 9 नवंबर, 2017 को चंडीगढ़ के सेक्टर 16 बी स्थित पंजाब आर्ट्स काउंसिल के रंधावा ऑडिटोरियम में अतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर त्रिदिवसीय महाधिवेशन का उद्घाटन किया, जिनमें प्रमुख थे डॉ. लारी आजाद, डॉ. स्ट्रीमलेट दखार, डॉ. विजयलक्ष्मी कोसगी, सुरजीत पातर, डॉ. अशोक कुमार ज्योति, सिमरत...
similarities-between-gandhi-modi-and-dr-pathak

गांधी-मोदी और डॉ. पाठक में है समानता

3 सप्ताह पहले
स्वच्छता के समाजशास्त्र पर राष्ट्रीय सेमिनार कार्यशाला का आयोजन ठाकोर भाई देसाई हॉल, लॉ गार्डन, एलिसब्रिज, अहमदाबाद में सुलभ के द्वारा गया। इस कार्यक्रम में डॉ. गिरिश बघेला, डॉ. राजेश और प्रो. अनिल बघेला मौजूद रहे।  डॉ पाठक हैं स्वच्छता के प्रतीक- डॉ. गिरिश बघेला  स्वच्छता की धारा मां गंगे के उदाहरण से बड़ी नहीं हो सकती और भारत में जब हम स्वच्छता के प्रतीक के बारे में बात करते हैं तो डॉ. विन्देश्वर पाठक से बड़ा कोई नहीं हो सकता है। स्वच्छता की संस्कृति भारत वर्ष की संस्कृति जनम-जनम से हर भारतीय को मिला है, लेकिन हम इसे कि...
dr-shaktibod-has-given-sulabh-village-name-to-sulabh-dham

स्वच्छता का सुलभ धाम

5 सप्ताह पहले
नागरिक स्वावलंबन एवं स्वाभिमान विकास परिषद द्वारा नई दिल्ली के डॉ. बीपी पाल सभागार में काव्यग्रंथ  ‘कर्मवीर’ का लोकार्पण एवं ‘कर्मवीर’ सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। इस समारोह में सुलभ स्वच्छता एवं सामाजिक सुधार आंदोलन के प्रणेता डॉ. विन्देश्वर पाठक और ऑल इंडिया पोयटेस कान्फ्रेंस के संस्थापक डॉ. लारी आजाद को कर्मवीर सम्मान से सम्मानित किया गया। इस सम्मान में श्रीफल, अंगवस्त्र, अभिनंदन पत्र, स्मृति चिन्ह और एक लाख रुपए का चेक प्रदान किया गया। वहीं मंच और सभागार में उपस्थित अन्य अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इसके साथ ही डॉ. शक्तिबोध की कृति काव्यग्रंथ  ‘कर...
sindoori-fortunately-overwhelmed-vinita

सिंदूरी सौभाग्य से अभिभूत विनीता

6 सप्ताह पहले
केदारनाथ में 2013 में आई आपदा में पति को खो चुकी 24 वर्षीय विनीता की जिंदगी को सुलभ इंटरनेशनल ने सिंदूरी सौभाग्य से भर दिया। नए जीवनसाथी के साथ फिर सात फेरे लेते हुए विनीता की खुशी उसके चेहरे पर झलक रही थी। इस मौके पर मौजूद आश्रय सदनों की विधवा माताओं की आंखें छलक आईं। खुद विनीता ने कहा, ‘मेरे लिए यह पुनर्जन्म की तरह है। मुझे लगता था कि मेरे जीवन में सब कुछ खो गया है। भविष्य अंधेरे में डूबा मालूम पड़ता था। पर एक बार फिर पारिवारिकता के सात फेरे में बंधकर मेरा एक तरह से पुनर्जन्म ही हुआ है। इस खुशी की कल्पना मैंने सपने में भी नहीं की थी।’ यह सच है कि विधवा विवाह को लेकर भारतीय समाज में जो रूढ़ियां रही हैं, उसमें एक विध...
lal-bahadur-shastri-national-award-for-dr-pathak

डॉ. पाठक को लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय पुरस्कार

7 सप्ताह पहले
सुप्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता एवं सुलभ इंटरनेशनल के संस्थापक पद्मभूषण डॉ. विन्देश्वर  पाठक को स्वच्छता के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए प्रतिष्ठित लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक गरिमापूर्ण समारोह में डॉ. विन्देश्वर  पाठक को वर्ष 2017 का लोक प्रशासन, शिक्षा और प्रबंधन में उत्कृष्टता के लिए 2017 के 18वां लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय पुरस्कार प्रदान किया। सुलभ प्रणेता डॉ. पाठक को पुरस्कार के तहत पांच लाख रुपए, स्मृति चिह्न और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। पुरस्कार समारोह में राष्ट्रपति ने कहा कि इस अवसर पर हमारे पूर्व प्रधानमंत्...
prime-minister-modi-book-on-global-launch

प्रधानमंत्री मोदी पर लिखी किताब का ग्लोबल लांच

10 सप्ताह पहले
भारत के ओजस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन पर लिखी कॉफी टेबल बुक 'द मेकिंग ऑफ ए लीजेंड' को अमेरिका की राजधानी वाशिंगटन डीसी में ग्लोबली लांच किया गया। इस अवसर पर इस किताब की प्रतियां खासतौर पर  अमेरिकी सांसदों एच मॉर्गन ग्रिफिथ, थॉमस ए गैरेट, बारबरा कॉमस्टोक, टेड योहो और एमी बेरा को भेंट की गईं। अमेरिकी सांसदों ने किताब की रचना के साथ प्रधानमंत्री मोदी के व्यक्तित्व और कार्यों की जमकर तारीफ की। इस पुस्तक के लेखक सुलभ स्वच्छता व सामाजिक सुधार आंदोलन के प्रणेता डॉ. विन्देश्वर पाठक हैं। इस मौके पर डॉ. पाठक ने कहा कि पीएम मोदी एक सच्चे और जमीनी स्तर के नेता हैं।  26 सितंबर को बंबई तंदूर रेस्त्रां में आ...
dr-pathak-respect-to-pioneers-of-cleanliness

स्वच्छता के अग्रदूतों को सम्मान

11 सप्ताह पहले
सुलभ स्वच्छता व सामाजिक सुधार आंदोलन के संस्थापक डॉ. विन्देश्वर पाठक द्वारा नेशनल वॉश चैंपियंस कॉन्क्लेव में स्वच्छता के अग्रदूतों को सम्मानित किया गया। इस सम्मान का मकसद बच्चों के मन मस्तिष्क में स्वच्छता के प्रति एक सकारात्मक सोच विकसित करना है, जिससे वह अपने घर-परिवार को भी स्वच्छता के प्रति जागरुक कर सकें और एक स्वच्छ और स्वस्थ समाज का निर्माण कर सकें। बता दें कि दिल्ली के मावालंकर हॉल में आयोजित नेशनल वॉश चैंपियंस कॉनक्लेव के दूसरे दिन केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग में राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल, निकोलस ओसबर्ट चीफ आॅफ वॉश सेक्शन यूनिसेफ, मानव संसाधन विकास मंत्रालय के स...
sanathathon-gets-international-success

स्वच्छाथॉन को मिली अंतरराष्ट्रीय कामयाबी

12 सप्ताह पहले
एक तरफ जहां स्वच्छता के मुद्दे पर भारत सरकार का फोकस लगातार बना हुआ है, वहीं स्वच्छता से जुड़े अभियानों और कार्यक्रमों को अपेक्षा से ज्यादा सफलता मिल रही है। ऐसा ही एक कार्यक्रम नई दिल्ली में पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय द्वारा आयोजित किया गया। इस आयोजन को स्वच्छाथॉन 1.0 नाम दिया गया। कार्यक्रम का मकसद देश के विभिन्न हिस्सों में स्वच्छता और सफाई की चुनौतियों के समाधान के वैकल्पिक तरीकों और तकनीक की खोज करना था। मंत्रालय ने चुनौतियों के समाधान के लिए स्कूलों, कॉलेजों, संस्थाओं, स्टार्ट-अप और अन्य समूहों को मौजूदा और नए समाधानों के साथ आमंत्रित किया। नवोन्मेषियों के आगे छह श्रेणियों के तहत अपनी प्रस्तुति देने के लिए कहा गया था...
respect-of-success-in-delhi

सफलता का सम्मान

14 सप्ताह पहले
यूपीएससी परीक्षा में टॉप करने वाले छात्रों के सम्मान में एस्पायर आईएस कोचिंग इंस्टीट्यूट और धारा फाउंडेशन की तरफ से कमानी ऑडिटोरियम में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम का आयोजन उन लोगों को सम्मानित करने के लिए किया गया, जिन्होंने एस्पायर आईएस से कोचिंग करके यूपीएससी परीक्षा में अच्छे रैंक हासिल किए हैं। इस समारोह में नं​िदनी केआर जैसे टॉपर्स को सम्मानित किया गया, जिन्होंने 457 अंक हासिल किया और दूसरे छात्रों के लिए एक उदाहरण पेश किया है।   कार्यक्रम में भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश केजी बालकृष्णन, सुलभ प्रणेता डॉ. विन्देश्वर पाठक, कार्यकर्ता अनिल गर्ग,  एससी / एसटी संगठन के अखिल भारतीय परिसंघ के महास...
 indresh-kumar-says-every-citizen-understands-its-responsibility

हर नागरिक समझे अपनी जिम्मेदारी- इंद्रेश कुमार

15 सप्ताह पहले
जिस दिन सीमा से हमारे सैनिक हट जाएं या अपना उत्तरदायित्व निभाने से मना कर दें, उस दिन हमारी स्वतंत्रता और सुकून की गारंटी देने वाला कोई नहीं होगा और हम फिर से दुश्मनों के गुलाम हो जाएंगे। ये बातें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक इंद्रेश कुमार ने ली मेरेडियन होटल, नई दिल्ली में आयोजित ‘बीटी-सीएसआर एक्सीलेंस अवार्ड-2017’ समारोह में कहीं। इस मौके पर उन्होंने कहा कि हम सबको न सिर्फ अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी, बल्कि उसे निभाना होगा। हमें भारत को एेसा बनाना है, जो पूरे विश्व में शांति का संदेश फैलाए। उन्होंने कहा कि किसी भी समस्या का उपाय हिंसा नहीं हो सकता है, हमें समस्या का समाधान शांति से निकालना चाहिए।...
dr-pathak-honored-with-sanitation-award-2017

‘स्वच्छता सम्मान 2017’ से सम्मानित हुए डॉ. पाठक

16 सप्ताह पहले
उन्नत भारत सोशल वेलफेयर सोसाइटी द्वारा स्वच्छ भारत- कवि सम्मेलन और स्वच्छता सम्मान समारोह-2017  का आयोजन नई दिल्ली स्थित इंडियन सोसाइटी फॉर इंटरनेशनल लाॅ में किया गया। इस सम्मान समारोह में चंपारण सत्याग्रह शताब्दी वर्ष स्मारिका का लोकार्पण सुलभ प्रणेता डॉ. विन्देश्वर पाठक, महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री कृष्णा राज, भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्याम जाजू, दिल्ली भाजपा पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सतीश उपाध्याय, पूर्व विधायक विजय जौली, सुखी परिवार अभियान के प्रणेता गणेशश्री राजेंद्र विजयजी महाराज, इंडिया न्यूज के प्रबंध संपादक राणा यशवंत सिंह, ज्ञान एमएसएफ सिक्योरिटी के प्रबंध निदेशक प्रकाश सिंह, बीजेआरएनएफ के संजय निर्मल, चीफ विजिल...


Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो