sulabh swatchh bharat

रविवार, 16 दिसंबर 2018

defeat-hiv-virus

हार जाएगा एचआईवी वायरस!

3 सप्ताह पहले
दुनियाभर में एचआईवी और एड्स का खतरा कम हुआ है। ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय में हुए एक वैज्ञानिक अध्ययन के मुताबिक हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली के अनुसार बदलाव आने के कारण एचआईवी वायरस कमजोर पड़ रहा है। अध्ययन के अनुसार अब एचआईवी संक्रमण से एड्स में तब्दील होने की प्रक्रिया सुस्त पड़ रही है और यह कम संक्रामक हुआ है। वायरस में आ रहे बदलाव से इस महामारी को रोकने के प्रयास में मदद मिल सकती है। कुछ वायरोलॉजिस्ट तो यहां तक मान रहे हैं कि इस वायरस में बदलाव आने की प्रक्रिया जारी रहने के कारण इसका धीरे-धीरे लगभग हानि रहित हो जाने की संभावना है। संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के अनुसार भारत, चीन और पाकिस्तान उन 10 देशों में शामिल हैं, जहां...
yoga-is-beneficial-for-heart-patients

हृदय रोगियों के लिए फायदेमंद है योग

4 सप्ताह पहले
योग हृदय रोगियों को दोबारा सामान्य जीवन जीने में मदद कर सकता है। लंबे समय तक किए गए क्लीनिकल ट्रायल के बाद भारतीय शोधकर्ता इस नतीजे पर पहुंचे हैं। इस ट्रायल के दौरान हृदय रोग से ग्रस्त मरीज में योग आधारित पुनर्वास (योगा-केयर) की तुलना देखभाल की उन्नत मानक प्रक्रियाओं से की गई है। हृदय रोगों से ग्रस्त मरीज में योगा-केयर के प्रभाव का आकलन करने के लिए देशभर के 24 स्थान पर यह अध्ययन किया गया है। लगातार 48 सत्र तक चले इस अध्ययन में अस्पताल में दाखिल या डिस्चार्ज हो चुके चार हजार हृदय रोगियों को शामिल किया गया। ट्रायल के दौरान तीन महीने तक अस्पताल और मरीज के घर पर योग-केयर से जुड़े प्रशिक्षण सत्र आयोजित किए गए थे। दस या ...
disease-old-research-new

रोग पुराना शोध नया

5 सप्ताह पहले
आधुनिक जीवनशैली और स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही ने जिस बीमारी का प्रसार देश-दुनिया में सबसे ज्यादा किया है, उसमें डायबिटीज (मधुमेह) का नाम प्रमुख है। दुनिया में प्रत्येक 11 में से एक वयस्क मधुमेह से पीड़ित है। मधुमेह की वजह से दिल का दौरा पड़ना, स्ट्रोक, अंधापन और किडनी फेल होने के खतरे बने रहते हैं। डाय​िबटीज शरीर में शुगर की मात्रा बढ़ जाने से होती है, इसे सामान्यतः दो प्रकारों टाइप-1 और टाइप-2 में बांटा गया है। लेकिन स्वीडन और फिनलैंड के शोधकर्मियों का मानना है कि उन्होंने इस बीमारी से जुड़ी और भी अधिक जटिल तस्वीर सबके सामने लाने में कामयाबी प्राप्त की है और इससे मधुमेह के उपचार का तरीका बदल सकता है। विशेषज्ञों का मानना...
dengue-can-occur-without-fever

बिना बुखार के भी हो सकता है डेंगू

6 सप्ताह पहले
इस वर्ष अगस्त महीने के अंत में  एक अधेड़ उम्र का व्यक्ति डॉक्टर आशुतोष विश्वास के पास आया और उसने कहा कि कुछ देर काम के बाद ही मुझे थकान महसूस होने लगती है। मेरी उम्र 50 वर्ष है। पिछले 12 साल से मुझे  डाय​िबटीज है और मैं बरसों से दवाई पर ही जिंदा हूं। एम्स में मेडिसिन विभाग के डॉ. आशुतोष विश्वास को ये बड़ी ही सामान्य-सी बीमारी लगी। डॉक्टर ने मरीज का शुगर टेस्ट किया जो खतरे के निशान के पार था। फिर क्या था, डॉ. विश्वास ने शुगर का इलाज किया और 24 घंटे के अंदर शुगर काबू में ले आए। शुगर काबू में लाने के बाद मरीज के खून के नमूने जांच के लिए भेजे गए। जांच रिपोर्ट आने के बाद पता चला कि उनके प्लेटलेट्स काउंट बहुत ...
cancer-treatment-was-easy

कैंसर का इलाज हुआ आसान

9 सप्ताह पहले
लंदन के इंस्टिट्यूट ऑफ कैंसर रिसर्च (आईसीआर) और यूनिवर्सिटी ऑफ एडिनबर्ग की टीम ने मिलकर एक नई तकनीक की खोज की है- रिवॉल्वर (रिपीटेड इवोल्यूशन ऑफ कैंसर)। कैंसर के दौरान डीएनए में आए बदलावों के पैटर्न को यह तकनीक रिकॉर्ड करती है और इस जानकारी को भविष्य में होने वाले अनुवांशिक बदलावों को समझने के लिए इस्तेमाल करती है। शोधकर्ताओं का कहना है कि ट्यूमर में लगातार आते बदलाव कैंसर के इलाज में एक बड़ी चुनौती थी। एक कैंसर 'ड्रग रेसिस्टेंट' हो सकता है, यानी कैंसर पर दवाई का असर बंद हो जाता है। हालांकि, अगर डॉक्टर ये पता लगा सकें कि ट्यूमर कैसे विकसित होगा तो वो इसके बढ़ने से पहले ही या इसके ड्रग रेसिस्टेंट होने से पहल...
adultcare-services-among-the-elderly-popular

बुजुर्गों के बीच 'अडल्टकेयर' सेवाएं लोकप्रिय

15 सप्ताह पहले
भारत भले ही दुनिया का सबसे  युवा देश है, लेकिन एक हकीकत यह भी है कि भारत में बुजुर्गों की आबादी उम्मीद से अधिक तेजी से बढ़ रही है। बुजुर्गों की संख्या 2050 तक बढ़कर 34 करोड़ तक पहुंचने की संभावना है, जो संयुक्त राष्ट्र के 31.68 करोड़ के अनुमान से अधिक है। यह एक स्पष्ट संकेत है कि भारत अनुमान से अधिक तेजी से बूढ़ा हो रहा है। इन अनुमानों ने स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए एक बहुत महत्वपूर्ण प्रश्न खड़ा किया है कि क्या हम तेजी से बढ़ रही बुजुर्गो की आबादी को गुणवत्तापूर्ण चिकित्सा व समुचित देखभाल के लिए तैयार हैं?  बढ़ती उम्र न केवल शारीरिक, बल्कि मानसिक स्वास्थ्य को भी प्रभावित करती है। इसीलिए विदेशों की तर्ज पर अडल्टकेय...
fasting-is-diabetes-precise-drug

उपवास है डायबिटीज की अचूक दवा

15 सप्ताह पहले
डायबिटीज के शिकार लोगों के लिए ब्लड शुगर और वजन को नियंत्रित रखना बेहद जरूरी होता है। इसके लिए डॉक्टर उन्हें संतुलित खानपान या डायटिंग की सलाह देते हैं। मगर ऑस्ट्रेलिया स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ ऑस्ट्रेलिया के विशेषज्ञों ने दावा किया है कि कैलोरी नियंत्रित करने वाली डाइट की जगह डायबिटीज को अन्य तरीके से भी नियंत्रित किया जा सकता है। उन्होंने हफ्ते में दो दिन उपवास रखने और पांच दिन सामान्य खानपान रखने का सुझाव दिया है। शोध में उन्होंने दावा किया है कि इस तरह से भी हफ्ते में उनकी कैलोरी की खपत 600 कैलोरी ही रहेगी। दुनिया में पहली बार हुए अपनी तरह के इस शोध में विशेषज्ञों ने दावा कि टाइप 2 डायबिटीज को नियंत्रित करने के लिए वजन बहुत...
most-given-medicine-is-antibiotics

सबसे ज्यादा दी जाने वाली दवा है एंटीबायोटिक्स

18 सप्ताह पहले
भारत सहित कई देशों में एंटीबायोटिक दवाओं की आपूर्ति बढ़ने से वैश्विक स्तर पर एंटीबायोटिक का असर बुरी तरह बेअसर होता जा रहा है। ऐसा एक शोध में सामने आया है, जिसमें कानून को बेहतर तरीके से तत्काल लागू करने की जरूरत बताई गई है। शोध में पाया गया है कि 2000 व 2010 के बीच एंटीबायोटिक्स का उपभोग वैश्विक रूप से बढ़ा है और यह 50 अरब से 70 अरब मानक इकाई हो गया है। इसके इस्तेमाल में वृद्धि में प्रमुख रूप से भारत, चीन, ब्राजील, रूस व दक्षिण अफ्रीका में हुई है। ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के इमानुएल एडेवुयी ने कहा कि एंटीबायोटिक दवाओं का अत्यधिक इस्तेमाल एंटीबायोटिक के प्रतिरोध के फैलाव व विकास को सुविधाजनक बन...
dragon-fruit-super-food

ड्रैगन फ्रूट यानी ‘सुपर फूड’

20 सप्ताह पहले
ड्रैगन फ्रूट कैक्टस प्रजाति के एक पौधे का फल है, जिसे ‘सुपर फूड’ भी कहा जाता है। क्योंकि इसमें कैंसर सहित कई बीमारियों से लड़ने की क्षमता है और इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है। ड्रैगन फ्रूट को पिताया और स्ट्रॉबेरी पेयर के नाम से भी जाना जाता है। इसका वानस्पतिक नाम हायलोसेरीयस उंडटस है। यह मुख्यतः उष्णकटिबंधीय क्षेत्र का पौधा है और इसकी उत्पत्ति मध्य और दक्षिणी अमेरिका माना जाता है। एनसायक्लोपीडिया ऑफ फ्रूट्स एंड नट्स के अनुसार ड्रैगन फ्रूट को पहली बार करीब 2300 वर्ष पूर्व प्री-कोलंबियन सेटलमेंट के दौरान देखा गया था। इसके बाद यूरोप के लोग इसका बीज ताइवान लेकर आए। वर्ष ...
herpes-is-associated-with-alzheimers

अल्जाइमर से जुड़ा है हर्पीस

21 सप्ताह पहले
वैज्ञानिकों को हर्पीस संक्रमण व अल्जाइमर बीमारी के जुड़े होने के साक्ष्य मिले हैं। साथ ही वैज्ञानिकों ने एंटीवायरल की संभावनाओं का भी पता लगाया है, जो न्यूडिजनरेटिव रोग के खतरे को कम करता है। इस शोध में जब गंभीर रूप से हर्पीस से संक्रमित लोगों का एंटीवायरल दवाओं के साथ इलाज किया गया तो डिमेंशिया (मनोभ्रम) का सापेक्ष खतरा 10 गुना कम हो गया। हर्पीस सिम्पेक्स वायरस (एचएसवी) ज्यादातर मानव को युवा काल में संक्रमित करता है या परिधीय तंत्रिका तंत्र के भीतर शरीर में जीवन भर निष्क्रिय रूप में बना रहता है। ऐसे बहुत से शोध हैं, जो हर्पीस व अल्जाइमर के संबंध को बताते हैं। मैनचेस्टर विश्वविद्यालय के ताइवानी इपिडेमिओलाजिस्ट द्वा...
vitamin-d-in-indian-women

भारतीय महिलाओं में विटामिन-डी!

22 सप्ताह पहले
एम्स, सफदरजंग और फोर्टिस अस्पताल के डॉक्टरों द्वारा मिलकर किए गए शोध से पता चला है कि उत्तर भारत में रहने वाली करीब 69 फीसदी महिलाओं में विटामिन-डी की कमी है और करीब 26 फीसदी महिलाओं में विटामिन-डी की मात्रा पर्याप्त है। मात्र 5 फीसदी महिलाओं में ही सही मात्रा में विटामिन-डी पाया जाता है।   विटामिन-डी का वैसे तो सीधा संबंध धूप से है। सूर्य की किरणों से मिलने वाला विटामिन स्वस्थ हड्डियों के लिए ही नहीं, बल्कि शरीर के प्रतिरोधी तंत्र के लिए भी बहुत जरूरी है। चूंकि भारतीय महिलाएं ज़्यादातर घर के कामकाज में व्यस्त रहती हैं इस वजह से धूप का सेवन कम करती हैं। दूसरी वजह, महिलाओं में होने वाला हॉर्मोनल बदलाव है। मेनोपोज...
neem-compound-will-treat-breast-cancer

नीम यौगिक से होगा स्तन कैंसर का इलाज

22 सप्ताह पहले
हैदराबाद स्थित एनआईपीईआर के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि नीम के पत्तों और फूलों से प्राप्त एक रासायनिक यौगिक निंबोलाइड स्तन कैंसर के इलाज में कुशलतापूर्वक काम कर सकता है। वैज्ञानिक चंद्रयाह गोडुगु ने कहा कि वे आगे अनुसंधान करने और नैदानिक परीक्षण के वित्त पोषण के लिए जैव प्रौद्योगिकी विभाग, आयुष और विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभागों और विभिन्न एजेंसियों के संपर्क में हैं। उन्होंने कहा कि उन्नत तकनीकी प्रक्रियाओं द्वारा इससे सस्ती एंटी-कैंसर दवा बनाई जा सकती है, क्योंकि नीम का पेड़ भारत में हर जगह पाया जाता है। अनुसंधान कार्यक्रम से जुड़े गोडुगु ने कहा, इसके ‘कैंसर विरोधी तत्वों के अलावा, यह एक आशाजनक केमोप्रेंटेंटिव ...


Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो